प्रधानमंत्री योजना से बन रहा प्रधान का घर

संतकबीरनगर:अंगूठाटेकप्रधानोंकोआगेकरकेकईलोगगांवोंकेसमग्रविकासकेलिएमिलनेवालीसरकारीधनराशिकोहड़पलेरहेहैं।कुछलोगअंगूठाटेकप्रधानोंकोहरमाहमानदेयकेरूपमेंतयरकमदेरहेहैं।शासनादेशकाउल्लंघनकरतेहुएइन्हेंप्रधानमंत्रीआवासजैसीमहत्वाकांक्षीयोजनासेलाभान्वितकरनेकीपहलकररहेहैं।सेमरियावांब्लाककाग्रामपंचायतगरथवलियाइसकाउदाहरणहै।

यहांकीप्रधानअनुसूचितजातिकीमहिलाअनीतादेवीहैं।टूटीहुईझोपड़ीमेंअपनेपरिवारकेसाथरहनेवालीइसमहिलाप्रधानकोयहपताहीनहींकिउनकेअंगूठा-दस्तखतसेप्रधानीचलारहेउनकेखासव्यक्तिनेलाखोंरुपयेनिकाललिएहैं।येइसबातसेखुशहैंकिप्रधानमंत्रीआवासयोजनाकेतहतउनकाघरबनरहाहै।जबकिइसयोजनासेप्रधानअपनाआवासनहींबनवासकते।इसकेइतरइन्हेंहरमहीनेपांचहजाररुपयेभीदेतेहैं।इससेइनकेपरिवारकाखर्चभीचलरहाहै।बहरहालमुख्यविकासअधिकारीनेगांवमेंहुएभ्रष्टाचारकीजांचकेलिएटीमगठितकरदीहै।

मनरेगासहितअन्ययोजनामेंगांवोंकेविकासकेलिएमिलेकरीबसवाकरोड़रुपयेकीजांचकेलिएटीएसी(तकनीकीलेखापरीक्षासमिति)केअधिकारीगांवमेंपहुंचे।ग्रामीणोंनेबतायाकिप्रधानमंत्रीआवासयोजनामेंबड़ेपैमानेपरगोलमालहुआहै।चौदहवेंवित्त,राज्यवित्तकेसाथहीमनरेगामेंजमकरभ्रष्टाचारहुआहै।एक-एककामपरतीन-तीनबारभुगतानहुआहै।प्रधाननेबतायाकिउनकेपतिहरिरामदरोगाहैंलेकिनप्रधानीगांवकेएकखासव्यक्तिदेखतेहैं।उनकाआवासभीयहीबनवारहेहैं।प्रधानबोलीं-सचिवकभी-कभीउनकाअंगूठालगवानेआतेहैं।विकासखंडअधिकारीआरकेचतुर्वेदीनेकहाकिउन्हेंभीयहीजानकारीहैकिगांवकेप्रधानकोईचौधरीसाहबहैं,क्योंकिवहीब्लाकपरआतेहैं।गांवकेशशिकपूर,प्रवीनदेवी,दिनेश,परविन्द्र,रेखा,आफताबनेबतायाकिउनकानामआवासयोजनामेंहै,लेकिनअभीतकआवासनहींमिला।प्रधानअनीतादेवीनेकहाकिउन्हेंहरमहीनेप्रधानीदेखरहेव्यक्तिसेपांचहजाररुपयेमिलतेहैं।वहीगांवकाकामभीदेखतेहैं।उनकेपासआवासनहींथा,लेकिनअबघरबनरहाहै,छतलगनाबाकीहै।गोलमालकेबारेमेंकोईजानकारीनहींहै।मुख्यविकासअधिकारीडा.बब्बनउपाध्यायनेकहाकिगरथवलियामेंहुएगोलमालकीजानकारीमिलीहै।मंडलीयटीमजांचकेलिएगईथी।विकासकार्योंकीफाइलअपनेकब्जेमेंलियाहै।विकासकार्योंकीजांचकेलिएटीमबनाईगईहै।जोभीदोषीहोगाउसपरकार्रवाईहोगी।