प्रधानाध्यापक की कुर्सी को ले जोड़तोड़ का केंद्र बना उच्च विद्यालय

खोरीमहुआ(गिरिडीह):धनवारप्रखंडकालाटोनायकउच्चविद्यालयनावागढ़चट्टीएकबारफिरसेकुर्सीकीलड़ाईकाकेंद्रबनगयाहै।अनुदानपरआठवींसेदसवींतकचलरहेइसविद्यालयकेशिक्षणव्यवस्थापरअबफिरसेखतरामंडरानेलगाहै।पिछलेकुछवर्षोसेदेखेंतोयहविद्यालयबच्चोंकोशिक्षादेनेमेंकमऔरशिक्षकोंकेबीचचलरहाआपसीराजनीतिकरवैयाध्यानआकर्षितकरनेमेंअव्वलरहाहै।वर्तमानमेंमुख्यरूपसेचारऔरकुछअन्यसहयोगीशिक्षकोंकेभरोसेचलरहायहविद्यालयएकबारफिरसेशिक्षकोंकेबीचगुटबाजीकाफलाफलभुगतनेकोतैयारहैं।इसकासबसेअधिकगंभीरपरिणामविद्यालयखुलनेकेबादयहांनामांकनकेलिएआनेवाले600बच्चोंकेपठन-पाठनपरपड़ेगा।पूर्वप्रधानाध्यापकलक्ष्मीनायककेसेवानिवृत्तहोनेकेबादसेप्रधानाध्यापककीकुर्सीकोपानेकीहोड़मचीहै।कुछदिनइसपदकेलिएसुधीरपांडेयऔरगुरुचरणप्रसादकेबीचजबरदस्तटकराहटरही।दोनोंसेवानिवृत्तहोचुकेहैंजिनमेंकुर्सीपानेकीहोड़एकबारफिरसेसामनेआरहीहै।वर्तमानमेंनएप्रधानाध्यापककापदभारविद्यालयकेशासीनिकायनेप्यारीनायककोदेदियाहै।एकबारफिरसेलिएइसफैसलेपरसवालखड़ेहोनेलगेहैं।हरकोईयहीजाननाचाहरहाहैकिआखिरकिसआधारपरविद्यालयप्रबंधनकमेटीनेइनकाचयनकियाहै।विद्यालयकेचारमुख्यशिक्षकोंमेंप्यारीनायक,प्रसादीनायक,मुबारकअलीऔरगोपालशरणसिंहहैं।इनसभीमेंशिक्षाकेआधारपरऔरविद्यालयमेंसेवाकेआधारपरसबसेअधिकदिनोंकाअनुभवप्रसादीनायककारहाहै।इनकापूराशिक्षणकार्यएमएऔरएमएडरहाहैजबकिप्यारीनायककीशिक्षासीपीईडीरहीहै।इसआधारपरदेखाजाएतोप्रधानाध्यापकपदकेयोग्यदावेदारप्रसादीनायकहीहोतेहैं।इन्हेंइससेवंचितकरदियागयाहै।इससेहताशहोकरप्रसादीबतातेहैंकिवेविद्यालयकेप्रधानाध्यापकपदकेलिएसबसेयोग्यहैं।यहांकीविद्यालयकमेटीऔरअन्यलोगोंकेराजनीतिकएजेंडेकाशिकारवेहोगएहैं।उन्होंनेगंभीरआरोपलगातेहुएकहाकिउन्हेंइसपदसेवंचितकरनेकोलेकरकाफीसाजिशेंरचीगईहैं।इधर22अगस्तकोविद्यालयकेनएशासीनिकायकाचयनहोनाहै।अलबत्ताविद्यालयकायहमामलाअबराजनीतिकरूपभीलेचुकाहै।भाजपाकेएकनेतानेजिलाशिक्षापदाधिकारीकोपत्रलिखकरविद्यालयकीवस्तुस्थितितथाप्रधानाध्यापकपदकेलिएयोग्ययाअयोग्यशिक्षककीव्याख्याभीकीहै।