पॉलीथिन गई तो आबाद हुई गरीबों की ¨जदगी

लखीमपुर:सरकारनेसंजीदगीदिखाईतोप्रशासननेभीपॉलीथिनकोरोकनेकेलिएसख्तरुखअपनाया।पूरेपखवाड़ेमेंहीजिलेसेलगभगसाठप्रतिशतपॉलीथिनविदाहोगई।ऐसाहोनेकेबादकुम्हारोंऔरकागजकेलिफाफेबनानेवालोंकीबांछेंखिलगईं।पंद्रहदिनमेंहीइनकाकारोबारपांचगुनाहोगया।जिलामुख्यालयसेसटेगांवसुआगाढ़ा,बनवारीपुरमेहवागंजसमेतआसपासकेक्षेत्रमेंकरीब60सेअधिकपरिवारहैजोलिफाफाबनाकरअबरोजगारचलारहेहैं।

ग्रामपंचायतसुआगाढ़ाकीनिवासीहाजिरूनकीउम्रकरीब60वर्षहै।वेबतातीहैकिपूरेदिनमेंकरीब100केआसपासलिफाफेबनजातेहैंऔरयहबाजारमेंबिकजातेहैं।इससेउन्हेंअच्छीखासीआमदनीहोजातीहै।एकलिफाफातीनसेचाररुपएतकपड़ताहै।अभीशुरुआतीदौरमेंतोपैसेउसनेनहींमिलपारहेहैं,लेकिनवक्तकेसाथयदिरोजगारबढ़ातोपरिवारकेलिएअच्छाव्यवसायहोगा।इसीगांवकीमायादेवीकाकहनाहैकिवेरोजअपनेपरिवारकेसाथलिफाफेबनानेकाकामकरतीहै।इसेकरीबदोढाईसौरुपएहररोजकमाएजारहेहैं।अभीशुरुआतहैलेकिनजैसे-जैसेकबबढ़ेगाइससेपरिवारकेलिएभीआसानीहोगी।बनवारीपुरगांवकीमालतीदेवीकाभीकहनाहैकिपरिवारकेसाथबैठकरकरीब300लिफाफेकेआसपासरोजबनातीहैएकलिफाफादोसेतीनरुपएकेबीचबिकताहै।क्योंकिछोटेऔरबड़ेदोनोंसाइ•ाकेलिफाफेहैं।महेवागंजकीफुलकुमारीबतातीहैकिपूरेदिनमेंसौकेआसपासदिखातेबनपातेहैंइससेढाईतीनसौरुपएहररोजकीकमाईहोरहीहै।सुआगाढाकीहीलक्ष्मीदेवीभीबतातीहैकिदिनमेंलगभग80लि़फा़फेवेरोजबनातीहैं।जिससेउन्हेंकुछपैसेरोजमिलजातेहैंव्यवसायबढ़नेकेसाथ-साथउनकाखर्चआगेभीबढ़सकताहै।मुहल्लाईदगाहकेअनुजगुप्ताभीबतातेहैंकिवहपरिवारकेसाथबैठकररोजकरीब200लिफाफेबनातेहैंइससेउन्हें300रुपएकेआसपासरोजमिलजातेहैं।