पंचकूला के कोचिंग इंस्टीट्यूटों में आने-जाने का एक ही रास्ता

राजेशमलकानियां,पंचकूला:शहरकेशोरूमोंएवंबूथोंमेंकोचिंगसेंटरधड़ल्लेसेचलरहेहैं।तीसरीमंजिलपरकईकोचिगसेंटरखुलेहैं,जिसमेंरोजानाहजारोंविद्यार्थीकोचिगकेलिएआतेहैं।इनइंस्टीट्यूटोंकीएंट्रीऔरएग्जिटएकहीरास्तेसेहैऔरकोईइमरजेंसीएग्जिटनहींबनायाजाएगा।पंचकूलाकेएककोचिगसेंटरमेंतोआगभीलगचुकीहै,लेकिनगनीमतयहथीकिजबआगलगी,तोअंदरकोईनहींथा।पंचकूलाशहरकीज्यादातरमार्केटोंमेंमल्टीस्टोरीदुकानेंहैं।उनमेंसेकेंडयाटॉपफ्लोर्सपरकोचिगसेंटर्सचलाएजारहेहैं।कोचिगसेंटर्समेंआगलगनेपरबचावकेसाधननहींहैंऔरऐसेमेंबच्चेहादसेकेशिकारहोसकतेहैं।नगरनिगमकेफायरविगकोइनसभीकोचिगसेंटर्सकीचेकिगकरउसमेंफायरसिस्टमवआगसेबचावकेसाधनसुनिश्चितकरनेचाहिए,उसनेपिछलेसालभरमेंइसकीचेकिगतकनहींकी।करीब100सेज्यादाकोचिगसेंटरइसटाइमचलरहेहैं।करीब10हजारसेज्यादाछात्रोंकीजानजोखिममेंहै।रोजसुबहसेलेकरशामतकहजारोंबच्चेटॉपफ्लोर्सपरअलग-अलगबैचोंमेंकोचिगलेनेजातेहैं।इसकेअलावाशोरूमकेबैकसाइडमेंवेंटिलेशनकीजगहकोभीकईशोरूममालिकोंद्वाराब्लॉककियागयाहै।ऐसेमेंआगबुझानेमेंफायरविभागकेफायरकर्मियोंकोकाफीपरेशानीहोतीहै।इनसेक्टरोंमेंकोचिगसेंटर

सेक्टर-4,5,7,8,9,10,11,12,12ए,14,15,16,17,20,21मेंप्रमुखतौरपरकोचिगसेंटर्सचलाएजारहेहैं।लगभग8से10हजारछात्रइनसेंटरोंमेंकोचिगलेनेकेलिएआतेहैं।छोटे-छोटेकैबिनोंमेंलगभग25से30छात्रोंकोएकसाथबैठाकरकोचिगदीजातीहै।अधिकतरचलरहेबिनापरमिशन

ज्यादाकोचिगसेंटरबिनापरमिशनचलरहेहैं,क्योंकिशोरूममालिकोंसेजगहकिरायेपरलेकरस्वयंहीयहसेंटरचलारहेहैं,जिनपरनकेलकसनेकेलिएशिक्षाविभागद्वाराकोईकदमनहींउठाएजारहे।सेक्टर-15मेंकोचिगसेंटरसंचालकजितेननेबतायाकिउन्होंनेशोरूमसंचालकसेजगहकिरायेपरलेरखीहै।फायरसेफ्टीकेजोभीप्रबंधकरनेहोतेहैं,वहशोरूमसंचालककीजिम्मेदारीबनतीहैऔरदमकलविभागकोहरशोरूममेंसेफ्टीसिस्टमकोचेककरनाचाहिए।यहकेवलछात्रोंहीनहीं,बल्किहरव्यक्तिसेफ्टीकामामलाहै।शनिवारकोसेक्टर-11,14,15मेंदमकलविभागकीटीमनेचेकिगकीहै।हालातबहुतज्यादाखतरनाकदिखे।कोईइमरजेंसीएग्जिटनहींहै।इसलिएलगभग28इंस्टीट्यूटोंकोनोटिसथमादियागयाहैऔरइनकोपांचदिनकासमयदियाहै,जिसकेबादकोर्टमेंकेसफाइलकरदियाजाएगा।

-जरनैलसिंह,कार्यकारीअधिकारी,नगरनिगम,पंचकूला