पछुआ हवाओं ने बढ़ाई गलन, दिनभर छायी रही बदरी

बलरामपुर:बुधवारकोमौसमकामिजाजबदलगया।पछुआहवाओंकेचलनेकेसाथगलनबढ़गई।दिनभरबदरीछायीरही।जिससेलोगोंकोघरोंमेंकैदहोनेकोविवशकरदियाहै।ठंडसेरिक्शाचालक,तीमारदारोंवराहगीरोंकीपरेशानीकोबढ़ादियाहै।बावजूदइसकेनगरपालिकापरिषदनेअलावकेइंतजामनहींकिएहैं।जिससेलोगोंकोठिठुरनापड़रहाहै।लोगोंनेगरमवऊनीकपड़ेनिकाललिए।ठंडसेठिठुरतेलोगआगकीतलाशकरतेदिखे।दिनमेंधूपनिकलनेकीआसमेंमामूलीकपड़ोंमेंघरसेनिकलेमजदूरोंकेलिएकहींभीअलावकीव्यवस्थानहींदिखाईदी।तोवहकागजजलाकरआगसेकतेनजरआए।संयुक्तजिलाचिकित्सालय,मेमोरियलअस्पताल,महिलाचिकित्सालय,परिवहनडिपो,रेलवेस्टेशनपरअलावकेइंतजामनहींकिएगएहैं।जिससेलोगोंकीपरेशानीकमहोनेकानामनहींलेरहीहै।उतरौलामेंरैनबसेराबनवानेवअलावजलवानेकीकोईरूपरेखानहींबनाईगईहै।बच्चोंवबुजुर्गबरतेंविशेषसावधानी

-डॉ.जयप्रकाशकाकहनाहैकिबच्चोंवबुजुर्गोंकोविशेषसावधानीबरतनेकीजरूरतहै।बच्चेवबुजुर्गअपनेस्वास्थ्यकाख्यालनहींरखपातेहैं।थोड़ीसीलापरवाहीसेवहबीमारीकीचपेटमेंआसकतेहैं।इसलिएसुबह-शामगर्मकपड़ेपहननाचाहिए।कोहरापड़नाशुरूहोगया।प्रदूषणकीपरतदिलकेरोगियोंकेलिएखासीखतरनाकहै।दिलकेमरीजोंकोसुबहघरसेबाहरनहींनिकलनाचाहिए।निकलनाभीपड़ेतोमुंहपरमास्कपहनकरहीनिकले।