पारा हुआ 43 के पार, रोजाना बढ़ रहे हैं डायरिया के मरीज

पाराहुआ43केपार,रोजानाबढ़रहेहैंडायरियाकेमरीज

फोटोसंख्या-11एचएएम18

प्रतिदिनछहसौसेअधिकमरीजोंकेहोरहेहैंरजिस्ट्रेशन

जागरणसंवाददाता,हमीरपुर:अप्रैलमाहकेशुरुआतीदसदिनोंमेंहीमौसमनेअपनेसख्ततेवरदिखानेशुरूकरदिएहैं।तापमान43डिग्रीकेपारपहुंचरहाहै।गरमहवाओंकेथपेड़ोंनेजनजीवनकोभीप्रभावितकररखाहै।तापमानबढ़नेकेकारणमरीजअस्पतालपहुंचरहेहैं।ऐसेमेंमौसमकीमारसेबचनेकेलिएसबसेअच्छातरीकाखुदकोजितनाहोसकेघरकेअंदररखनेकाहै।दिनके11बजेसेलेकरशाम4बजेतकतेजधूपवगर्महवाएंलोगोंकोझुलसानेकाकामकररहीहैं।सोमवारकोअस्पतालकीओपीडीमें668मरीजोंकेरजिस्ट्रेशनहुए।जिलाअस्पतालकेवरिष्ठफिजीशियनडा.आरएसप्रजापतिनेबतायाकि40से45डिग्रीसेल्सियसतापमानकेचलतेअगरशरीरमेंपानीकीकमीहोतीहैऔरदेरतकबनीरहतीहैतोइसकेगंभीरनतीजेहोसकतेहैं।उन्होंनेबतायाकिअभीहीटस्ट्रोकजैसेकेसकमहैं।गर्मीकीवजहसेलोगउल्टी-दस्तकेशिकारहोरहेहैं।लूसेबचनेकेलिएकभीभीखालीपेटबाहरननिकलें।हाइड्रेटरहेंऔरजहांतकहोसकेखुदकोढककरहीधूपमेंजाएं।बच्चोंकारखेंख्यालखासजिलामहिलाअस्पतालकेनवजातशिशुएवंबालरोगविशेषज्ञडा.आशुतोषनिरंजननेबतायाकिबच्चोंमेंइसमौसममेंडायरियाकीशिकायतज्यादाहोरहीहै।बच्चोंकोभीमौसमसेबचानाहै।उन्हेंपूरीबांहकेसूतीकपड़ेपहनाएं।जरूरीहोनेपरबाहरनिकालें।सिरपरकैपलगाएं।खानपानमेंसावधानीबरतें।बासीभोजनसेबचें।बाहरीचीजोंकापरहेजकरें।फास्टफूडसेभीदूरीबनानेमेंहीभलाईहै।