पानी निकासी की ठप व्यवस्था से तंग लोगों ने किया पलायन का एलान

संवादसहयोगी,कलायत:कस्बेमेंदिनप्रतिदिनविकरालरूपलेतीबरसातीपानीनिकासीकीसमस्यासेआवासीयक्षेत्रोंमेंस्थितिबिगड़तीजारहीहै।हालातोंकाप्रमुखकारणठपनिकासीनालोंकोमानाजारहाहै।इनकीसफाईऔरनिकासीकोलेकरनजानेक्योंअधिकारीबचरहेहैं।समस्यासेतंगआएकलायतवार्डएकपीरकालोनीकेलोगोंनेहालातोंमेंसुधारनहोनेपरपलायनकीचेतावनीदीहै।जोगेंद्रचौहान,सतूराम,हिम्मतसिंह,अनीता,रामा,इंद्रसिंह,कर्मवीरसिंहनेबतायाकिआवासीयक्षेत्रमेंकई-कईफीटपानीजमाहै।जलस्तरघटनेकीबजाएबढ़ताजारहाहै।संकटसेनिपटनेकेलिएप्रभावितलोगअपनेस्तरपरसंसाधनजुटारहेहैं।नगरपालिकाऔरअन्यस्थानीयअधिकारियोंसेकिसीतरहकीमददनहींमिलपारही।लोगघरोंमेंकैदहोकररहगएहैं।निकासीकेनामपरएकइंजनरखागयाथा।एकघंटेचलानेकेबादइसइंजनकोअधिकारियोंनेवहांसेहटादिया।

धंसरहेआशियाने

पीरकालोनीऔरउपमंडलनागरिकअस्पतालकेपासजिनपरिवारोंकेसामनेआशियानाधंसनेकीसमस्याआईहैउससेस्थितिभयावहबनीहै।बच्चेभीपरिवारोंकेसाथपानीनिकासीकीजंगलड़रहेहैं।लोगोंनेडीसीप्रदीपदहियासेस्थितिकाअपनेस्तरपरजायजालेनेकीअपीलकीहै।कलायतकेआदर्शगांवढूंढवामेंप्रगतिशीलकिसानशीशपालकेमाथेपरचिताकीगहरीलकीरेंहैं।करीबतीनएकड़मेंलगाएगएबागमेंजलभरावकेकारणअमरूदऔरअन्यफलनष्टहोगएहैं।