पानी को लेकर मची त्राहि-त्राहि

जागरणसंवाददाता,बांदा:क्यागलीयासड़क,पूरेशहरमेंदोदिनोंसेपानीकोलेकरत्राहि-त्राहिमचीहुईहै।जलसंस्थानकीजलापूर्तिपूरीतरहठपहै।ओवरहेडटैंकभरनेकीतोदूरकीबातजलसंस्थानवअन्यसरकारीदफ्तरोंमेंभीपानीकाअकालहै।जनप्रतिनिधियोंसेलेकरअफसरोंतकएक-दूसरेकोजिम्मेदारठहरातकठीकराफोड़रहेहैं।जल्दव्यवस्थाठीकहोतेनहींदिखरहीहै।यदिसबकुछठीक-ठाकरहातोलोगोंकोएकदो-दिनोंतकयूंहीपानीकोलेकरसंघर्षकरनापड़सकताहै।

बम्बेश्वरपहाड़स्थितइंटेकबेलकोजानेवालीअंडरग्राउंडलाइनतीनसौमीटरफुंकगईथी।जोकिसोमवारसुबहआठबजेतकबदलीगई।दोपहरबादतकविद्युतअधिकारीलाइनोंकोदुरुस्तकरानेकोहाथपैरपीटतेरहे।उम्मीदजगीकिशामतकनलकूपोंसेलोगोंकोआंशिकसप्लाईकेसाथराहतमिलेगी।लेकिनशामकोआईतेजआंधीनेअफसरोंकीपरेशानीबढ़ादी।कईजगहपेड़टूटनेऔरविद्युतलाइनक्षतिग्रस्तहोनेकीवजहसेनलकूपोंऔरइंटेकवेलकीविद्युतआपूर्तिफिरबाधितहोगई।मंगलवारशामतकनलकूपोंकोपर्याप्तआपूर्तिनहींमिलसकी।पानीनमिलपानेकेकारणलोगोंकीभीड़सड़कोंपरदिखी।हैंडपंपऔरकुओंमेंलोगोंकीलंबीकतारथी।जिनकेघरखुदकीबो¨रगनहींथी,वहसभीपानीकेलिएमारामारीकरतेदिखे।शहरकेबन्योटा,छोटीबाजार,मर्दननाका,छिपटहरी,कटरा,पद्माकरचौराहा,रामलीलामैदान,खांईपार,अतर्राचुंगीचौराहा,अलीगंज,इदिरानगर,डीएमकालोनीसमेतसभीमोहल्लोंमेंपानीकोलेकरपरेशानरहे।इनसेट.

यहांसेहोतीहैजलापूर्ति

शहरकीजलापूर्तिकाजिम्मादोइंटेकवेलऔर22नलकूपोंकेजिम्मेहै।एकइंटेकवेलभूरागढ़औरदूसराबम्बेश्वरपहाड़मेंहै।जिससेलगभगशहरकीआधीआबादीकोपानीकीव्यवस्थाहोतीहै।इसीप्रकारएकअलीगंज,अतर्रारोड,बबेरूरोड,¨तदवारीरोड,जमालपुर,कनवाराआदिमेंनलकूपलगेहुएहैं।इसकेअलावाकुछकुओंऔरहैंडपंपोंसेभीपानीकीसप्लाईकीजातीहै।इनसेट.

टैंकरभरनेकोभीनहींहैपानी

जलसंस्थानऔरनगरपालिकाकेपासकुल65टैंकरहैं।जिनमेंजलसंस्थानकेपास50औरनगरपालिकाकेपास15हैं।जलसंस्थानकेसिर्फ35टैंकरठीकहैं।लेकिनसभीसूखेखड़ेहैं।सोमवारकोजिनमोहल्लोंमेंज्यादापानीकीसमस्याथी,कंप्लेनआनेपरवहांटैंकरभेजागया।लेकिनअबउन्हेंदोबाराभरनेकेलिएभीपानीकीव्यवस्थानहींहोपारहीहै।सप्लाईतोदूरकीबातजलसंस्थाननेटैंकरोंसेभीपानीपहुंचानेपरहाथखड़ेकरदिएहैं।जबकिनगरपालिकाकोपानीहीढूंढेनहींमिलरहाहै।इनसेट.

निजीटैंकरसंचालकोंकीचांदी

शहरमेंपेयजलसमस्याकाफायदानिजीटैंकरसंचालकउठारहेहैं।इनदिनोंनिजीटैंकरसंचालककईमोहल्लोंमेंपानीकीसप्लाईदेरहेहैं।जिनसेवहमोटीरकमभीवसूलतेहैं।हालांकिसहालगकीवजहसेवहभीजरूरतकेमुताबिकटैंकरनहींउपलब्धकरापारहेहैं।इनसेट.

क्याकहतेहैंजिम्मेदार

-जलसंस्थानकेअधिकारियोंकोबुलायाहै।तत्कालअधिकारियोंसेदोबाराबातकरताहूं,जल्दहीदिक्कतखत्महोगी।-दिव्यप्रकाशगिरि,डीएम-बिजलीकीसमस्याकेकारणपरेशानीहोरहीहै।जनरेटरपुरानेहैं।बिजलीमिलीतोपानीमिलेगा,मंगलवारकोटैंकरोंसेसप्लाईकीकोशिशहोगा।-रतनलाल,एक्सईएन,जलसंस्थान-कुछमोहल्लोंकीबिजलीव्यवस्थापटरीपरउतरआईहै।भूरागढ़फीडरभीचालूहोगयाहै।जरैलीकोठी,अतर्रारोडआदिस्थानोंपरअभीदिक्कतहै।जहांजल्दहीबिजलीआपूर्तिशुरूहोजाएगी।-कुमारसौरभ,एसडीओविद्युत-जलसंस्थानसेटैंकरोंकोपानीनहींमिलरहाहै।खुदकेछोटेनलकूपसेपानीभरकरकिसीप्रकारव्यवस्थाकीजारहीहै।जलसंस्थानकीएककरोड़61लाखरुपएकीमांगहै,लेकिनउन्होंनेमनाकरदियाहै।कहाहैकिजोसामानचाहिएवहहमेंबताएं,हमदेंगे।पिछलेसालदोकरोड़85लाखलिए,आजतकब्योरानहींदियाहै।-मोहनसाहू,नगरपालिकाअध्यक्ष