पांच सेमी प्रति घंटे की रफ्तार से बढ़ रही राप्ती

श्रावस्ती:तराईमेंलगातारहोरहीबारिशसेराप्तीनदीकाजलस्तरबढ़नेलगाहै।सोमवारकोनदीपांचसेंटीमीटरप्रतिघंटेकीरफ्तारसेबढ़रहीथी।तटवर्तीगांवोंकेलोगोंकीनजरनदीकीधारापरटिकीहुईहै।लगातारहोरहीबारिशसेबाढ़कीआशंकाबनीहुईहै।

राप्तीनदीकासंपर्कनेपालसेनिकलनेवालेपहाड़ीनालोंसेहै।इसकेचलतेपहाड़ोंपरहोनेवालीबारिशकापानीभीजमुनहाब्लॉकक्षेत्रसेराप्तीनदीमेंप्रवेशकरताहै।लगातारबारिशकेसाथनेपालसेपानीआनेसेनदीकाजलस्तरबढ़नेलगाहै।राप्तीबैराजपरनदीकेखतरेकेनिशान127.70सेमीनिर्धारितहै।सोमवारकोदोपहरमेंजलस्तर127.15सेमीपरपहुंचगया।पांचसेंटीमीटरप्रतिघंटेकीरफ्तारसेजलस्तरबढ़रहाथा।नदीमेंपानीबढ़नेसेजमुनहाकेगंगाभागड़,कोदिया,कलकलवा,बीरपुरलौकिहा,बरंगा,रामपुर,पोंदला,पोंदलीआदिगांवोंकेलोगपरेशानहैं।

जलभरावसेबढ़ीपरेशानी

तहसीलमुख्यालयइकौनामेंमुख्यबाजारकीसड़कटूटकरगड्ढोंमेंतब्दीलहोचुकीहैं।जलनिकासीकीव्यवस्थादुरुस्तनहोनेसेबरसातकापानीसड़कपरभरजाताहै।नालियोंकीगंदगीभीसड़कपरजमाहोजातीहै।सड़कपरजलभरावहोनेसेलोगोंकोगंदेपानीसेगुजरनापड़रहाहै।बौद्धतीर्थक्षेत्रसेसटेकटराबाजारमेंनालियांदुरुस्तनहोनेसेजलभरावकीसमस्याबनीहुईहै।

कृषिकार्यप्रभावित

लगातारबरसातसेव्यापारकेसाथखेती-किसानीभीप्रभावितहोरहीहै।खेतोंमेंपानीभरजानेसेजहांमेंथावसब्जीकीफसलखराबहोरहीहै।वहींखेतकीजुताईरुकजानेसेधानकीनर्सरीलगानेवमक्केकीबोआईकरनेमेंभीरुकावटआरहीहै।