पांच साल से ड्यूटी से गायब 48 डॉक्टर होंगे बर्खास्त

देहरादून[राज्यब्यूरो]:प्रदेशकेविभिन्नअस्पतालोंमें48डॉक्टरऐसेमिलेहैं,जोपांचसालसेअधिकसमयसेगायबहैं।शासनइनसभीकोबर्खास्तकरइनकीजगहनएडॉक्टरतैनातकरनेकीतैयारीकररहाहै।इसकेअलावाअबऐसेडॉक्टरोंकाभीचिह्नीकरणकियाजारहाहैजोछहमाहसेअधिकसमयसेगायबचलरहेहैं।मानाजारहाहैकिइनकीसंख्या150सेअधिकहोसकतीहै।

उत्तराखंडमेंलंबेसमयसेस्वास्थ्यसेवाएंपटरीसेउतरीहुईहैं।इसकामुख्यकारणप्रदेशमेंडॉक्टरोंकीसंख्याकमहोनाहै।राज्यगठनकेबादअभीतकप्रदेशमेंआईसरकारेंस्वास्थ्यसेवाएंदुरुस्तकरनेमेंनाकामरहींहैं।खासतौरपरपर्वतीयक्षेत्रोंमेंस्वास्थ्यसुविधाएंमुहैयाकरानासबसेबड़ीचुनौतीहै।

आंकड़ोंपरनजरडालेंतोप्रदेशमेंकुल2109स्वास्थ्ययूनिटहैं।इनमेंसंयुक्तअस्पताल,जिलाअस्पताल,सीएचसी,पीएचसीऔरउपकेंद्रशामिलहैं।इनमेंडॉक्टरोंके2715पदसृजितहैं।इनकेसापेक्षकेवल1104पदोंपरहीडॉक्टरतैनातहैं।

इसकीभीजबशासनस्तरसेजांचकराईगईतोकईचौंकानेवालेतथ्यसामनेआए।यहपताचलाकिकईचिकित्सकऐसेहैंजिनकीतैनातीसरकारीकागजोंमेंतोहैंलेकिनवेअस्पतालोंमेंलंबेसमयसेगएहीनहीं।इसपरशासननेपांचसालसेअधिकसमयसेगायबरहनेवालेडॉक्टरोंकीसूचीतलबकी।

अभीतकशासनकेपास48नामऐसेआएहैंजोपांचसालोंसेअस्पतालमेंथेहीनहीं।अबइनसबकोबर्खास्तकरनेकीतैयारीहै।यहभीमानाजारहाहैकिअभीबड़ीसंख्यामेंऐसेडॉक्टरभीहोसकतेहैंजोलंबेसमयसेगायबहैं।ऐसेमेंअबछहमाहसेअधिकसमयसेअस्पतालोंसेअनुपस्थितडॉक्टरोंकीसूचीभीतैयारकीजारहीहै।इनकीसंख्या150केआसपासमानीजारहीहै।

सचिवस्वास्थ्यनितेशकुमारझानेकहाहैकिअभीतक48ऐसेडॉक्टरोंकोपताचलाहैजोपांचसालसेअधिकसमयसेगायबहैं।इन्हेंबर्खास्तकरइनकेपदोंकोरिक्तघोषितकरतेहुएनईनियुक्तियांकीजाएंगी।इसकेअलावाअन्यडॉक्टरोंकीउपस्थितिकीभीजांचकराईजारहीहै।

यहभीपढ़ें:अबअगरएंबुलेंसकारास्तारोकातोहोगीयेबड़ीकार्रवार्इ

यहभीपढ़ें:सूचनापरभीनहींपहुंचीएंबुलेंस,महिलानेसड़कपरदियाबच्चेकोजन्म