पांच लाख लोग अभी भी 'सुरक्षा कवच' से वंचित

जासं,औरैया:कोरोनासंक्रमणसेबचावकेलिएटीकाकरणअभियानकीशुरुआतहुएएकसालकासमयबीतचुकाहै।अभीभी18सालसेज्यादाआयुकेलोगपूरीतरहसुरक्षितनहींहैं।विभागीयआंकड़ोंपरगौरकरेंतोपांचलाखसेअधिकलोग'सुरक्षाकवच'सेवंचितहैं।जिन्हेंपहलीडोजतोलगगईहैलेकिनदूसरीडोजसेवहदूरीबनाएहुएहैं।

शासननेकोरोनासंक्रमणसेबचावकेलिएटीकाकरणअभियानकीशुरुआत16जनवरी2021सेशुरूकीथी।जिलेमें18सालसेऊपरआयुकेकुलमतदाता10लाख15हजार158हैं।इसहिसाबसेदेखाजाएतो18सालसेअधिकआयुकेअबतकजिलेमेंकुलपांचलाख13हजार959नेकोरोनासेबचावकेलिएदोनोंडोजलगवालींहैं।इसआंकड़ेकेअनुसारअभीभीजिलेमेंपांचलाखएकहजार199लोगअभीजीवनरक्षकडोजसेदूरहैं।हालांकिइनमेंकुछलोगऐसेभीहैंजिन्होंनेदोनोंडोजलगवालींहैं।टीकाकरणअभियानकेनोडलअधिकारीडा.देवनरायनकटियारनेबतायाकिरविवारकोटीकाकरणकेलिए236सेंटरसंचालितकिएगएथे।जहांपहुंचे13385कोवैक्सीनलगाईहै।जिलेमेंकुलटीकाकरणकरानेवालोंकीसंख्या14लाख69हजार116जापहुंचीहै।प्रथमडोजलगवानेवालेलाभार्थीनौलाख52हजार862औरदोनोंडोजलगवानेवालेलाभार्थियोंकीसंख्यापांचलाख13हजार959जापहुंचीहै।प्रीकाशनडोजलगवानेवालोंकीसंख्या2275हैं।इधर,किशोरोंकोवैक्सीनलगानेकेलिए70केंद्रसंचालितकिएगए।तिलकमहाविद्यालयसमेतअन्यस्कूलोंवसंस्थानोंमेंशिविरलगाएगए।छात्र-छात्राओंमेंजागरूकतानजरआई।