पालमपुर में निजी स्‍कूल प्रबंधन के खिलाफ बिफरे बच्‍चों के अभिभावक, तानाशाही रवैया अपनाने का आरोप

पालमपुर,जेएनएन।क्षेत्रकेएकअग्रणीनिजीस्कूलकेअभिभावकप्रधानाचार्यकेअड़ियलरवैयेकेखिलाफलामबंदहोगएहैं।बच्चोंकेअभिभावकोंकाआरोपहैकिस्कूलप्रबंधनमनमानीफीसवसूलकरअभिभावकोंकीभावनाओंकोठेसपहुंचारहाहै।इसीमांगकोलेकरअभिभावकोंनेअधिकसंख्यामेंसोमवारकोस्कूलपहुंचकरविरोधजताया।अभिभावकोंकाअारोपहैकि3240वार्षिकशुल्कलियाजारहाहै।अभिवावकोंनेबतायायदिकोईअपनीसमस्यास्कूलप्रबंधनकोबतानेकीकोशिशकरताहैतोवहतानाशाहीपरउतारूहोकरकहतेहैंकियदिआपकोकोईदिक्कतहै,तोअपनेबच्चोंकोस्कूलसेनिकाललो।उन्होंनेबतायासरकारकेआदेशोंकेउपरांतभीस्कूलपूरीफीसवसूलकररहाहै।

कोरोनासंक्रमणकीवजहसेसरकारकीओरसेस्कूलोंकोट्यूशनफीसलेनेकेआदेशपारितकिएहैं।लेकिनयहांपहलीतिमाहीकीपूरीफीसलेनेकेबादस्कूलप्रशासननेइसमाहभी4000रुपयेप्रतिमाहवसूलनेकाफिरफरमानजारीकरदियाहै।बच्‍चोंकेअभिभावकशम्मीकुमार,अातमाराम,विक्रमसिंह,सुनीलकुमार,सुदर्शना,महेंद्र,कुमार,अंजली,संजनानेसहितअभिवावकोंनेबतायाबहुतसेस्कूलोंनेबच्चोंकोभरपूरसहयोगदिया।लेकिनयहांबच्चोंऔरउनकेअभिभावकोंपरकोईरहमनहींकियाजारहाहै।एकतोवेपहलेहीकोरोनामहामारीकेचलतेपरेशान,बेरोज़गारवलाचारहैं।ऊपरसेस्कूलकीतानाशाहीनेउनकीरातोंकीनींदहरामकररखीहै।इसलिएसोमवारकोस्कूलपहुंचेहैं।

वहीं,इससंदर्भमेंस्‍कूलप्रधानाचार्यकाकहनाहैकिनियमोंकेतहतहीफीसलेरहेहैं।अॉनलाइनकक्षाएंचलरहीहैं।अगरकिसीसेज्यादाफीसकाभुगतानकियाहै,तोउसेसमायोजितकियाजाएगा।