नप के खाते में 41 करोड़ और फाइलों में अटके पड़े विकास के प्रस्ताव

डीडीगोयल,डबवाली

मनोहरसरकारकानारासबकासाथ-सबकाविकासडबवालीपरलागूहोतानहींदिखरहा।यहांनगरपरिषदकेपास41करोड़रुपयेतोहैं,लेकिनहाऊसमेंपारितप्रस्तावोंपरअनुमोदननहोनेकीवजहसेविकासपरखर्चनहींकरसकती।करीबएकदर्जनबैठकोंमेंविकासकोलेकरपारितप्रस्तावप्रशासनिकअधिकारियोंकीटेबलपरअटकेहुएहैं।सीधेतौरपरइसेप्रशासनिकलापरवाहीहीमानाजाएगा।सवालयहहैकिअधिकारीक्योंकिसीशहरकेविकासमेंबाधाबनेंगे।नगरपरिषदपरसत्तारुढकांग्रेससीधेतौरपरभाजपाकोजिम्मेवारठहरारहीहै,तोवहींभाजपानेताहुड्डाराजमेंनगरपरिषदमेंहुएघोटालोंकोहालातोंकेलिएजिम्मेवारठहरारहेहैं।आंकड़ोंकेआधारपरबातकरेंतो1अप्रैल2017कोविभिन्नस्कीमोंकेतहतनपकेपास25करोड़85लाख,37हजार914रुपएथे।इससालसीएफसी,एसएफसी,एससीबस्ती,वैटतथासीएमअनाउंसमेंटकेमिलाकर15करोड़98लाख35हजाररुपयेखातेमेंओरआगए।लेकिनविकासकेनामपरसिर्फआधाकॉलोनीरोडबनाहै।जिसपर32.26लाखरुपयेखर्चहुएहैं।ऐसेमेंवित्तवर्ष2017-18खत्महोनेसेकईग्रांटलैप्सहोनेकाडरसतारहाहै।

नगरपरिषदडबवालीकेपासग्रांट

स्टेटफाइनेंसकमीशन(एसएफसी)4,29,34,039

सेंटरफाइनेंसकमीशन(सीएफसी)4,38,04,226

एससीबस्ती1,14,91,904

एमपीलैंड+डीप्लान2,00,302

सॉलिडवेस्टमैनेजमेंट(एसडब्ल्यूएम)2,040,000

स्वच्छभारतमिशन(एसबीएम)54,53,719

सीएमअनाउंसमेंट7,00,00,000

सीएमअनाउंसमेंटसिरेनहींचढ़रही

सीएममनोहरलालनेशहरडबवालीकेविकासकेलिए7करोड़रुपयेकीघोषणाकीहै।जिसमेंसेदोकरोड़रुपयेकेटेंडरअलॉटहोचुकेहैं।इसकेतहतप्रेमनगर,जवाहरनगरकीमुख्यगलियोंसमेतकॉलोनीरोडकानिर्माणहोनाहै।अग्निकांडस्मारकमेंकरीब15लाखरुपयेकीलागतसेहालकानिर्माणहोनाहै।लेकिनतकनीकीअधिकारियोंकीकमीकीवजहसेकार्यशुरूनहींहुआहै।

डबवालीमेंविकासकार्यनहोनेकेकारण

1.तकनीकीस्टाफकीकमी।रेगुलरजेईहै,लेकिनदिसंबर2017सेमेडिकललीवपरचलरहाहै।कार्यकारीएमईनिजेशकुमारनेडबवालीसेमुंहमोड़ाहुआहै।

2.22मई2016कोनगरपरिषदचुनावहोनेकेबादहाउसकीपहलीबैठकअगस्त-सितंबर2016कोहुईथी।अबतकहुईबैठकोंसभीप्रस्तावपारितकरकेअनुमोदनकेलिएप्रशासनिकअधिकारियोंकेपासभेजेगएहैं।अनुमोदनकेइंतजारमेंविकासरुकाहुआहै।

3.तत्कालीनकांग्रेससरकारमेंडबवालीनगरपरिषदमेंबड़ेस्तरपरघपलेउजागरहुएहैं।सरकारकेसाथ-साथप्रशासनिकअधिकारीसचेतहैं।चूंकिउजागरमामलोंमेंकईअधिकारीफंसचुकेहैं।

कांग्रेसकाआरोप-डबवालीसेभेदभावकररहीहैसरकार

सरकारडबवालीसेभेदभावकररहीहै।हाउसकीबैठकमेंपारितहोनेवालेप्रस्तावोंकोप्रशासनिकअधिकारियोंनेरोकरखाहै।एसडीएम,डीसीतथाडायरेक्टरकीटेबलपरफाइलरुकीहुईहै।ऐसाक्योंहोरहाहै,येतोअधिकारीहीबतासकतेहैं।नपकेपासइतनापैसाहैकिग्रांटकेलिएहाथफैलानेकीजरूरतनहीं।लेकिनसरकारकीमंशाविकासकरवानेकीनहींहै।टेक्निकलस्टाफकीमांगकरचुकेहैं।हाइकोर्टमेंयाचिकादायरकरचुकेहैं।आदेशकेबादमहजदोमाहकेलिएकार्यकारीतौरपरस्टाफभेजा,बादमेंवापसलेलिया।इनेलोविधायक,एमपीभीकमजोरसाबितहोरहेहैं।

-डॉ.केवी¨सह,वरिष्ठकांग्रेसनेता

सरकारसबकासाथ-सबकाविकासकरनेपरविश्वासरखतीहै।तीनसालमेंतेजीसेडबवालीइलाकेकेविकासकोपैसादियाहै।हुड्डाराजमेंजबनगरपरिषदपरइनेलोकीसत्ताथीतोकांग्रेसकेठेकेदारथे।भ्रष्टाचारकेकईमामलेउजागरहुए।कईअधिकारी,कर्मचारीफंसचुकेहैं।कांग्रेस-इनेलोकीकरनीकेकारणकोईअधिकारीयाकर्मचारीनपडबवालीमेंआनेकोतैयारनहीं।जनतानेपार्षदोंकोवकीलबनाकरशहरकीसरकारमेंभेजाथा।वेभीउम्मीदोंपरखरेनहींउतररहे।सरकारशहरकाविकासकरवानेकोप्रतिबद्धहै,प्रयासरतहै।

-सतीशजग्गा,वरिष्ठभाजपानेता