निर्विरोध जीत के मायने

पश्चिमबंगालकेत्रिस्तरीयपंचायतचुनावमेंसत्तारूढ़दलतृणमूलकांग्रेसकी34.2फीसदसीटोंपरनिर्विरोधजीतहुईहै।इसबारपंचायतोंमेंनिर्विरोधजीतनेमें तृणमूलकांग्रेसनेवाममोर्चाकाभीरिकार्डतोड़दियाहै।राज्यमेंवाममोर्चाकाशासनजबअपनेपूरेशबाबपरथातो2003मेंउसनेत्रिस्तरीयपंचायतोंमेंसर्वाधिक11प्रतिशतसीटोंपरनिर्विरोधजीतहासिलकीथी।नामांकनवापसलेनेकीअंतिमतिथिखत्महोनेकेबादराज्यचुनावआयोगकेहवालेसेमिलीखबरखबरकेमुताबिकतृणमूलकांग्रेसनेत्रिस्तरीयपंचायतोंमें20हजारसेअधिकसीटेंयानी34.2प्रतिशतप्रतिशतपरबिनाप्रतिद्वंद्विताकेकब्जाकरलियाहै।2003मेंत्रिस्तरीयपंचायतोंमें6हजार800सीटोंपरवाममोर्चाकेउम्मीदवारनिर्विरोधचुनेगएथे।उससमयतकबंगालमेंवाममोर्चाकाएकछत्रशासनथाऔरविपक्षकाप्रभावनगण्यथा।कहनेकोतोममताबनर्जीकीपार्टीतृणमूलजरूरविपक्षीपार्टीकेरूपमेंलड़रहीथी,लेकिनचुनावमेंवहमाकपाकोबराबरकीटक्करदेनेकीस्थितिमेंनहींथी।इसकेबावजूदउससमयमात्र11प्रतिशतसीटोंपरवाममोर्चाकेउम्मीदवारनिर्विरोधजीतेथेतोजाहिर90प्रतिशतसीटों परलोकतांत्रिकढंगसेचुनावहुआथा।लेकिनवाममोर्चाकेशासनमेंनिर्विरोधजीतनेऔरइसबार20हजारसेअधिकयानीतीनगुणाअधिकसीटोंपरतृणमूलकांग्रेसउम्मीदवारोंकेबिनाप्रतिद्वंद्विताजीतनेमेंबहुतफर्कहै।

तृणमूलकांग्रेसमहासचिवपार्थचटर्जीकातोदावाहैकिनिर्विरोधजीतनेवालीसीटोंकीसंख्या40प्रतिशतपारकरसकतीहै।चटर्जीकेदावेमेंसच्चाईहैइसमेंकोईरायनहींहै,लेकिनस्वस्थलोकतांत्रिकमाहौलमेंयदिकिसीपार्टीकेउम्मीदवारअधिकसंख्यामेंनिर्विरोधचुनावजीततेहैंतोइसमेंकोईगलतनहींहै।लेकिनयदिपहलेसेहीऐसामाहौलपैदाकरदियागयाहोकिविपक्षीदलनामांकनजमाहीनहींकरपाएऔरयदिकिसीतरहसाहसकरजमाकरभीदेतो उसेवापसलेनेकेलिएबाध्यकरदियाजाएतोऐसेमेंलोकतांत्रिकव्यवस्थापरतोसवालखड़ाहोताहीहै।ऐसेमेंनिर्विरोधजीतनेकाकोईमतलबनहींहै।जाहिरहैजोशेषसीटेंहैंउसपरभीचुनावबादअधिकांशपरतृणमूलकाहीकब्जाहोजाएगा।

[स्थानीयसंपादकीय:पश्चिमबंगाल]