निजी अस्पतालों ने परिसर में क्यों नहीं बनाया आक्सीजन प्लांट : हाई कोर्ट

नईदिल्ली[विनीतत्रिपाठी]।अस्पतालोंकीतरफसेऑक्सीजनकीकमीपरलगातारआरहीशिकायतोंपरदिल्लीहाईकोर्टनेअहमटिप्पणीकी।बत्राहॉस्पिटलकीशिकायतपरन्यायमूर्तिविपिनसांघीवन्यायमूर्तिरेखापल्लीकीपीठनेकहाकिआपएकबड़ाअस्पतालसंचालितकरतेहैं।पीठनेपूछाकिआखिरआपनेअबतकअपनाऑक्सीजनप्लांटक्योंनहींलगाया।यहएकबड़ीसमस्याहैऔरहमजोभीकरसकतेहैंहमकररहेहैं।पीठनेकहाकियहपूरामामलादोनोंहीसरकारोंकेसंज्ञानमेंहैं।

बत्राअस्पतालनेकहाकिहमेंऑक्सीजनदीजिएयाफिरमरीजभर्तीकरनेकेलिएबेडनिर्धारितकरें

बत्राअस्पतालकेमेडिकलडायरेक्टरनेसुनवाईकेदौरानकहाकिहरदिनहमेंछहहजारलीटरऑक्सीजनकीजरूरतहै,लेकिनजोकुछभीवहकागजोंमेंहै।दिल्लीसरकारऔरअदालतकेकईआदेशकेबावजूदभीहमेंआवंटितऑक्सीजननहींमिलरहाहै।हरसमयहमारेसिरपरतलवारलटकरहीहै।उन्होंनेकहाकियातोहमेंआवंटितऑक्सीजनउपलब्धकरादीजिएयाफिरहमभर्तीकरनाबंदकरदेतेहैं।उन्होंनेकहाकिहरदिनमरनेवालोंकीदरबढ़रहीहै।इसकेकारणलोगोंकेमनमेंचिंतारहतीहैकिऑक्सीजनकीकमीकेकारणवेकभीभीमरसकतेहैं।उन्होंनेकहाकिअगरऑक्सीजनउपलब्धनहींहोसकतीहैतोहमेंकोरोनाअस्पतालसेगैरकोरोनाअस्पतालमेंतब्दीलकरदियाजाये।इसपरपीठनेकहाकियहसवालआसाननहींहै।

सरकारअपनेनहींरोकरहीऑक्सीजन

सुनवाईकेदौरानमहाराजअग्रसेनअस्पतालकीतरफसेपेशहुएअधिवक्तानेऑक्सीजनकीकमीशिकायतकी।उन्होंनेकहाबोर्डपरलिखाहैकिअस्पतालमें100बेडअस्पतालमेंहैंतोसभीआरहेहैं,लेकिनहमारेपाससुविधानहींहै।इसपरपीठनेकहाकिसबसेअहमबातयहीहैकिजोभीसरकारकेपासवहआपूर्तिकररहीहै।पीठनेकहाकिसरकारऑक्सीजनकोअपनेलिएनहींरोकसकतीहै।

अगरअस्पतालकेपासबेडनहीं,हमकुछनहींकरसकते:कोर्ट

सुनवाईकेदौरानअधिवक्तारविगुप्तानेआवेदनदाखिलकरकेकहाकिएकमरीजकीसुबहतबियतखराबहुई,लेकिनऑक्सीजनकीकमीकेकारणउन्हेंआइसीयूबेडनहींमिला।पीठनेकहाकिहमअपनीपूरीकोशिशकररहेहैं,लेकिनअगरबेडनहींहैतोहमनतोआदेशजारीकरसकतेहैंऔरनमददकरसकतेहैं।अमितशर्मानेपूछाउन्हेंक्याकरनाचाहिए।पीठनेकहाकिअदालतकीसहानुभूतिउनकेसाथहै।हालांकि,पीठनेमहाराजाअग्रसेनअस्पतालकोमामलेकाेदेखनेकोकहा।