नारायणपुर के गोल तालाब का अस्तित्व खतरे में

संवादसहयोगीनारायणपुर(जामताड़ा):नारायणपुरप्रखंडकेसमीपस्थितगोलतालाबअपनीबदहालीकाआंसूरोरहाहै।इसतालाबमेंबाहरसेपानीआनेकाकोईविकल्पनहींहै।सभीओरसेघेराबंदीहोनेकेकारणतालाबमेंवर्षाकाजलनहींआपाताहै।तालाबकीसफाईपरभीकिसीकाध्याननहींहै।जबकिइसीतालाबकेपानीकाउपयोगआसपासकीबड़ीआबादीस्नानकरनेअलावामछलीपालनवसिचाईमेंभीकरतेहैं।तालाबकोअगरसहेजकररखाजातातोगर्मीकेशुरुआतीदौरमेंतालाबकाअधिकांशपानीनहींसूखता।तालाबकीअनदेखीकाखामियाजाभीआसपासकीआबादीकोभुगतनापड़रहाहै।नजदीककेचापाकलवकुओंकाजलस्तरघटनेलगाहै।घरोंकाजलस्त्रोतजवाबदेनेलगाहै।

वर्तमानसमयमेंयहतालाबसूखनेकेकगारपरहै।इसतालाबसेपशुओंकोपानीमिलताहै।मछलीपालनहोताहै।पटवनहोताहैतथास्थानीयलोगस्नानकरनेमेंभीतालाबकाउपयोगकरतेहैं।यहतालाबसूखजाएगातोस्थानीयलोगोंकेसमक्षसमस्याखड़ीहोजाएगी।अन्यस्थानोंपरतोतालाबकाजीर्णोद्धारऔरसौंदर्यीकरणकाकार्यहोताहै,परंतुइसतालाबकीओरआजतकध्याननहींदियागयाहै।समय-समयपरस्थानीयलोगोंनेविभागकाध्यानइसओरआकृष्टकरायाहैकितालाबकीखुदाईहोतथासीढ़ीकानिर्माणहोताकिलोगोंकोस्नानमेंसहूलियतहोपरंतुऔरकिसीप्रकारकीपहलनहींहुई।नतीजतनधीरे-धीरेयहमहत्वपूर्णतालाबअपनेअस्तित्वकोखोनेकीओरअग्रसरहै।एकसमयथाजबइसतालाबकाजलबहुतहीनिर्मलथा।तबइसतालाबमेंसालोंभरपानीरहाकरताथा।परंतुवर्तमानसमयमेंस्थितिऐसीहैकितालाबगादसेभरगयाहैऔरअप्रैलमाहमेंपानीनाममात्रकारहगयाहै।मईमाहमेंपानीदेखनेकोभीनहींमिलेगा।तालाबसूखनेकीवजहसेआसपासकेचापाकलसेपानीनिकलनाबंदहोगयाहै।बहरहालतालाबकाजीर्णोद्धारवसौंदर्यीकरणजरूरीहै।गोलतालाबकेनामसेप्रसिद्धयहजलस्त्रोतबेहदउपयोगीहै।यहकपड़ेसाफकरना,स्नानकरनेतथापूजा-पाठमेंकामआताहै।परंतुसरकारीउपेक्षाकेकारणतालाबकाअस्तित्वखतरेमेंहै।इंसानतोखुदकीव्यवस्थाकरलेंगेपरंतुजानवरकहांजाएंगे।उन्हेंपीनेकेलिएपानीमिलनामुश्किलहोजाएगा।तालाबकोसहेजनाजरूरीहै।

वरुणरवानी,नारायणपुर।

-अन्यस्थानोंपरतोतालाबकेजीर्णोद्धारकाकार्यहुएपरंतुइसतालाबपरकभीध्याननहींदियागया।यहसरकारीउपेक्षासमझसेपरेहै।आजतकविभागकीओरसेकोईभीकार्यइसतालाबकोसंरक्षितकरनेकेलिएनहींकियागयाहै।बारिशकेजलकेसंग्रहकाभीउपायकरनाजरूरीहै।

जानमोहम्मद,नारायणपुर।

-तालाबकाजीर्णोद्धारजल्दनहींहुआतोपानीगायबहोजाएगा।गर्मीकेपहलेइसकीसफाईकाकामकरवानाचाहिएथा।अबतकजलस्तरऔरनीचेजाएगाऔरआसपासकेकुआंवचापाकलमेंपानीआनाबंदहोजाएगा।सरकारकोइसपरध्यानदेनेकीजरूरतहै।जलसंरक्षणकेप्रतिसबोंकोसोचनाहोगा।-बहादुरपंडित,नारायणपुर।-जलसंरक्षणकेलिएतालाबकाजीर्णोद्धारहोनाचाहिए।सरकारकोतालाबकीखुदाईकरगादनिकालनाचाहिए।इसतालाबपरपहलेसेध्यानदियाजातातोइसगर्मीमेंभीकाफीपानीरहता।हरवर्षतालाबकीबदहालीबढ़रहीहै।।बारिशकेपानीकाबहावबाहरसेआनेकारास्ताभीबंदहै।

---कपिलदेव,नारायणपुर।