नारा लेखन कर बताया नशा तन, मन और धन का करता नाश : पाठक

संवादसूत्र,नरवाना:केएमराजकीयमहाविद्यालयकीराष्ट्रीयसेवायोजना,आरआरसीएवंरेडक्रासद्वारासंयुक्तरुपसेअंतरराष्ट्रीयतंबाकूनिषेधदिवसपरव्याख्यानमाला,चित्रनिर्माणऔरनारालेखनकाआयोजनकियागया।इसमें300विद्यार्थियोंनेभागलिया।प्राचार्यअविनाशकुमारपाठकनेकहाकिनशातन,मनऔरधनकानाशकरताहै।आजशायदहीकोईपरिवारनशेकीबीमारीसेबचाहोगा।नशेकीप्रवृत्तिनेयुवावर्गकोतोनष्ट-भ्रष्टकरदियाहै।प्रोफेसरजयपालआर्यनेकहाकिविश्वमेंधूम्रपानएवंनशेसेप्रतिवर्ष80लाखसेएककरोड़20लाखतकलोगमौतकेशिकारहोरहेहैं।भारतमेंप्रतिवर्ष13लाखऔरप्रतिदिनलगभग3500आदमीमौतकेमुंहमेंजारहेहैं।धूम्रपानसेफेफड़ोंकाकैंसर,टीबी,अस्थमा,निमोनिया,सांसफूलना,गुर्दे,स्तन,गर्भाशय,यकृत,मुंहएवंगलेइत्यादिकाकैंसर,मधुमेह,पक्षाघात,उच्चरक्तचाप,नपुंसकता,बांझपन,हड्डियांवमांसपेशियोंकाकमजोरहोनाइत्यादिरोगउत्पन्नहोतेहैं।इसलिएमेंविद्यार्थियोंकोतंबाकूनिषेधकीप्रतिज्ञादिलवाईगई।इसअवसरपरकविता,सुरेंद्रसिंह,रुचिका,लालसिंह,पूनममौजूदरहे।छात्राओंकोतंबाकूसेहोनेवालीबीमारियोंकेप्रतिकियाजागरूकसंवादसूत्र,नरवाना:एसडीमहिलाकालेजकीराष्ट्रीयसेवायोजना,रेडक्राससेलऔररेडरिबनविभागद्वाराविश्वतंबाकूनिषेधदिवसमनायागया।स्वयंसेविकाओंकेद्वाराकालेजपरिसरऔरअपने-अपनेगांवमेंजाकरजागरूकतालानेकीशपथएनएसएसप्रभारीकांताजागलाननेदिलवाई।जिसकाउद्देश्यलोगोंकोतंबाकूसेहोनेवालीबीमारियोंकेबारेमेंजागरूककरनारहा।

डा.शालूसचदेवानेबतायाकितंबाकूकेसेवनसेकैंसर,सांसकीबीमारीदिलकादौराजैसीबीमारियोंकेशिकारहोजातेहैं।रेडक्रासअधिकारीडा.नयनदीपनेबतायाकिदुनियाभरमें70लाखसेभीअधिकमौतेंतंबाकूखानेसेहोतीहैं।प्राचार्यडा.अंजनालोहाननेबतायाकिआजकलतंबाकूसिगरेटऔरहुक्कापीनेकोयुवापीढ़ीअपनास्टेटससिबलमाननेलगेहैं,लेकिनउनकेजीवनकेलिएखतरनाकसाबितहोसकताहै।इसलिएइसतरहकेजागरूकअभियानआवश्यकहै।इसशपथअवसरपररेखाकोहली,डा.अनिताछाबड़ा,मूर्तिजागलान,सुदेशबनवाला,सोनूमौजूदरहे।