नाम-पते ढूंढ 30 से ज्यादा मोबाइल वैन टीमें लगीं, बुजुर्गों और असहाय लोगों को लगा रही टीका

वैक्सीनेशनमहाभियान2.0केतहतदोदिनमें2.07लाखसेज्यादावैक्सीनेशनकेबादशनिवारकोफिरवैक्सीनेशनशुरूहुआ।इसमेंसवालाखडोजलगानेकाटारगेटहै।इसमेंसबसेज्यादाजोरउन66हजारलोगोंपरहै,जिन्होंनेपहलाडोजनहींलगवायाहै।शनिवारकोऐसेलोगोंकेनाम-पतेढूंढ़करडोर-टू-डोरपहुंचकरटीकालगायाजारहाहै।शहरीऔरग्रामीणक्षेत्रोंमें30सेज्यादामोबाइलवैनमेंटीमेंलगाईगईहैं।इनमेंभीज्यादातरचलने-फिरनेमेंअसहायबुजुर्गवदिव्यांगहैं।शनिवारको64,371लोगोंकोवैक्सीन(दोनोंडोज)लगाईजाचुकीथी।वैसेउम्मीदहै,तीन-चारदिनोंमेंजिलेमेंपहलाडोज100%होजाएगा।

इससेपहले25अगस्तकोमहाभियानमें1,17,586लोगोंनेवैक्सीनलगवाईथी,फिर26अगस्तको89,878लोगोंनेटीकालगवाया।दोदिनोंमें2,07,464लोगोंनेवैक्सीनलगवाई।शुक्रवार27अगस्तकोगर्भवतीमहिलाओंकेलिएवैक्सीनेशनरखागया,जिसमेंशामतक1121महिलाओंनेटीकालगवायाथा।इसतरहअभीतककरीब7हजारसेज्यादागर्भवतीमहिलाओंकोभीवैक्सीनलगचुकीहै।वैसे,जिलेमेंवैक्सीनेशनकेलिए28लाखलोगपात्रहैं।इनमेंसे27,68,610कोपहलाडोजऔर9,36,993कोदोनोंडोजलगचुकेहैं।इसतरहकुल37,94,603डोजलगचुकेहैं।

टीकाकरणअधिकारीडॉ.तरुणगुप्तानेबताया,शनिवारकोजिलेमें400सेज्यादासेंटरबनाएगएहैं।इनमेंसे216सेंटरशहरीक्षेत्रमेंहैं।इसमेंसवालाखडोजलगानेकाटारगेटहै।इसमेंकोविशील्डवकोवैक्सिनदोनोंकापहलावदूसराडोजलगाएजारहेहैं।ऐसेही19जोनोंमेंगर्भवतीमहिलाओंकेलिएविशेषसेंटरबनाएगएहैं।ग्रामीणक्षेत्रोंमेंइसबारविशेषजोरदियागयाहै,क्योंकिवहां66हजारलोगोंकापहलाडोजबाकीहै।इसकेलिएलगातारप्रचार-प्रसारकियाजारहाहै।

शनिवारकोमहू,मानपुर,बेटमा,देपालपुरमेंएसडीएम,तहसीलदार,सीएमओसमेतअधिकारीमैदानीतौकपरडटेरहे।अधिकारियोंकेनिर्देशपरदेपालपुरमेंतहसीलदारबजरंगबहादुर,सीएमओचंद्रशेखरसोनीसआदिनेउनलोगोंकेनाम-पतेनिकालेजिनलोगोंनेपहलाडोजनहींलगायाहै।फिरउनकेघरमोबाइलवेनभेजकरउन्हेंवैक्सीनलगाई।

बेटमावमानपुरमेंभीमोबाइलवैनकीटीमेंग्रामदौलताबाद,शिवगढ़,उतरसीआदिक्षेत्रोंमेंघूमतेरहीऔरलोगोंकोघरजाकरवैक्सीनलगाई।शहरीक्षेत्रमेंभीबचेबुजुर्गोंवदिव्यांगोंकोघर-घरजाकरवैक्सीनलगाईगई।यहांविद्यानगरनिवासीबुजुर्गएसबीसिंघल(74),छत्रीबागनिवासीसुंदरलालव्यास(85),वेंकटेशनगरनिवासीमनीषकुमारसोमानी(80)सहितअन्यकोघर-घरजाकरवैक्सीनलगाईगई।दिव्यांगलोगोंकेमामलेमेंस्वास्थ्यटीमोंनेसाइनलैंग्वेजएक्सपर्टज्ञानेंद्रपुरोहितवमोनिकापुरोहितकीमददसेवैक्सीनलगाईगई।