मुंड धरि कादबें राइत दिन, पापी सुन लेइ चीन..

तोरपा:कोरोनाकाखौफदुनियाभरमेंतारीहै।लोगवायरसऔरइसकेडरकोदूरकरनेकेलिएकईतरहकेउपायकररहेहैं।एक-दूसरेकाहिम्मतबढ़ानेकेलिएगीत-संगीतकाभीसहारालेरहेहैं।विदेशोंमेंभीघरोंमेंबंदलोगएकदूसरेकाहौसलाबंधानेकेलिएगानागारहेहै।भारतमेंभीकोरोनाकेखौफकोलोकगीतोंकेजरिएकमकियाजारहाहै।प्रखंडकेबारकुलीपंचायतकेझटनीटोलीकेरहनेवालेवजीइएलमध्यविद्यालयदियंाकेलमेंशिक्षकदिगंबरसिंहअपनेनागपुरीगीतोंसेजागरूकताफैलारहे।लोगोंसेअपीलकररहेहैंकिचीनकेसामाननइस्तेमालकरें।इनकाबहिष्कारकरें।पहलेकोरोनावायरसऔरफिरसीमाहमारेजवानोंकेसाथझड़पकररहेहैं।कहाहैकिनेभीचीनकोसबकसिखनेकेलिएहमारेदेशकेप्रधानमंत्रीकोसहयोगकरें,ताकिवायरसवचीनबार्डरपरस्थितनियंत्रणमेंरहे।वहअपनेगीतकेमाध्यमसेकहरहेहैं,रेपापीसुइनलेचीन,दुनियाकेकरलेझिन्नभिन्न,पापीसुईनलेचीनदुनियाकेकरलेझिन्नभिन्न..भेईजदेलेतोयउसनचिंहकहियोनीहोबेउरीन..सोची-सोचीजीबकादेराइत-दिन,पापीसुइनलेचीन।..कतनाकरजानलेलेकतनाकेतड़पाले..कतनाकेकरलेकोरेटाईन,पापीसुइनलेचीन..सापबिच्छासबकेखोले,केखोनीतोयंछोड़ले..कोरोनाकेदुनियामेफैलाले,पापीसुइनलेचीन।..आवतथेतोरउसनदिनमागलेनइपाबेऋण,मुंडधरिकादबेंराइतदिन,पापीसुनलेइचीन।हाइसतोयंबड़ाधोखेबाज,दुनियासेतोकेनाखेलाज-दिंगबरतोरकरीतोइलाजपापीसुइनलेचीन..मेइटजातौतोरनामोनिशान,पापीसुइनलेचीन।इसतरहवेअपनेगीतोंसेलोगोंकोजागरूककररहेहैं।चीनकीदगाबाजीसेसावधानभीकररहेहैं।