मुख्यमंत्री जनसंवाद केंद्र में आ रहे भूमि विवाद के अधिक मामले

दुमका:दुमकासमाहरणालयमेंस्थापितमुख्यमंत्रीजनसंवादकेंद्रसहनिदानकेंद्रमेंअधिकांशमामलेभूमिविवादकेपहुंचरहेहैं।

खासकरप्रत्येकमंगलवारऔरशुक्रवारकोयहांलगनेवालेजनतादरबारकेमाध्यमसेमुख्यमंत्रीजनसंवादकेंद्रमेंअधिकमामलेआतेहैं।सामान्यदिनोंमेंऔसतनपांचसे10शिकायतेंपहुंचतीहैंजिनकेनिपटाराकीदिशामेंसंबंधितविभागसेलेकरमुख्यमंत्रीसचिवालयतकपहलहोतीहै।अधिकृतजानकारीकेमुताबिकयहांअबतक12650मामलेइंट्रीहुएहैंजिसमें8,658मामलोंकानिपटाराकियाजाचुकाहै।कईमामलेसुनवाईकीप्रक्रियामेंहैं।दुमकामेंस्थापितमुख्यमंत्रीजनसंवादकेंद्रकारिस्पांस92.90फीसदहै।

इनमामलोंमेंदर्जहोतीहैंशिकायतें

-सेविका-सहायिकाचयनमेंअनियमितता

-भूमिअधिग्रहणएवंमुआवजासेसंबंधित

-भू-अर्जनसेजुड़ेमामले

-वृद्धावस्थापेंशन

-आवासवशौचालयकीमांग

-चापाकलठीककरानेकीगुहार

-शिक्षकप्रोन्नतिकामामला

-स्थानांतरणसेजुड़ेमसले

-दूसरेजिलेकेपाराशिक्षकोंकीजुड़ीसमस्याएं

सातमाहसेमानदेयनहींमिलनेकीगुहारलेकरपहुंचेथेशिकायतकरने

शुक्रवारकोयहांतेजस्विनीपरियोजनासेजुड़ेकलस्टरको-ऑíडनेटर,काउंसलरएवंब्रीजएजुकेटरपिछलेजुलाईमाहसे

मानदेयनहींमिलनेकीशिकायतदर्जकरानेयहांपहुंचेथे।इनकर्मियोंकाकहनाहैकिउनसेलगातारकामकरवायाजारहाहैलेकिनमानदेयकाभुगताननहींकियाजारहाहै।कईबारगुहारलगानेकेबादभीकोईसुनवाईनहींहोरहीहै।कहाकिविकासभारतीकेमाध्यमसेउनसबकाभुगतानहोनाहैलेकिनबार-बारआश्वासनदेकरसिर्फअपनाकामनिकालाजारहाहै।24जनवरीतकभुगतानकाआश्वासनसंस्थाकीओरसेदियागयाहैलेकिनइससेपहलेभीकईदफाऐसेआश्वासनमिलतेरहेहैं।इनकेअलावायहांश्रमिकशिक्षकभीअपनीभुगतानसेसंबंधितशिकायतकोलेकरयहांपहुंचेथे।

पूरीव्यवस्थाकोसंभालरहेआधादर्जनकर्मी

मुख्यमंत्रीजनसंवादकेंद्रकोप्रभावीतरीकेसेसंचालितकरनेकेलिएअपरसमाहर्ताइंदूगुप्ताकोनोडलपदाधिकारीबनायागयाहैजबकिराज्यस्तरसेयहांएकजिलाको-ऑíडनेटरकोभीतैनातकियागयाहै।जिलाको-ऑíडनेटरकेतौरपरयहांमानसकुमारदत्तकोरखागयाहै।जबकिदिलीपकुमारगुप्तायहांकेप्रधानलिपिकहैं।यहांप्रतिनियुक्तिपरतैनातकीगईंजनसेवकरीताचंद्रऔरबीनामरांडीआनेवालेशिकायतकर्ताकीसमस्याओंकानिराकरणवउनकीहरसंभवमददकरतीहैं।

वाणीमंडलकंप्यूटरऑपरेटरएवंनरेशबास्कीअनुसेवककेतौरपरअपनीसेवादेरहेहैं।

मुख्यमंत्रीजनसंवादकेंद्रमेंप्रतिदिनआनेवालेमामलोंकोदर्जकरइनकेनिष्पादनकेलिएसंबंधितविभागोंकोप्रेषितकियाजाताहै।अबतकइंट्रीआवेदनोंमें75फीसदसेअधिकमामलोंकानिष्पादनहोचुकाहै।शेषमामलोंकोनिष्पादितकरनेकीदिशामेंआवश्यकपहलहोरहीहै।यहांकारिस्पांसलेबल92.90फीसदहै।

मानसकुमारदत्त,जिलाको-ऑíडनेटर