मुजफ्फरपुर में जलजमाव की पीड़ा से मुक्ति को गुहार लगा रहे शहरवासी

मुजफ्फरपुर,जासं।डेढ़माहसेजलजमावकीपीड़ाझेलरहेशहरवासीइससेमुक्तिकीगुहारलगारहेहै।नगरआयुक्तसेलेकरजिलाधिकारीतकसेअनुनय-विनयकररहेहैं।पार्षदसेलेकरविधायकतककेघरकादरवाजाखटखटारहेहंै।इसकेबादभीउनकेसभीप्रयासविफलहीसाबितहोरहेहैं।किसीकेपासशहरवासियोंकोइसपीड़ासेनिजातदिलानेकाउपायनहींहै।ऐसेमेंजलजमावकीपीड़ाझेलरहेशहरवासीकहांजाएंऔरअबकिसकोअपनीपीड़ासुनाएंयेवहसमझनहींपारहेहंै।

जलजमावकेबीचनारकीयजीवनझेलरहेमोहल्लावासी

अमरूदबगान,रज्जूसाहलेन,केदारनाथरोड,कालीबाड़ीरोड,रामबागरोड,दासकालोनी,विश्वविद्यालयप्रेसगली,सोडागोदामरोड,डा.रामचंद्रपूर्वेगली,माड़ीपुररामराजीरोड,स्कूलरोड,बेलारोडसमेतशहरकेदोदर्जनऐसेमोहल्लेवगलियांहैैंजहांडेढ़माहसेबारिशकापानीलगाहै।निगमकेलाखप्रयासकेबादभीजमापानीनिकलनहींपायाहै।ऐसानहींकिइनमोहल्लोंमेंनालानहींहै।नालाहोनेकेबादभीयहांसेपानीनहींनिकलरहाहै।विश्वविद्यालयप्रेसगलीनिवासीअरविंदकुमारनेकहाकिमोहल्लावासीकिसहालातमेंरहरहेहैंजनप्रतिनिधिएवंअधिकारीआकरदेखलें।एकदिनभीवेइसहालातमेंरहकरदिखादेंतोहमकिसीतरहसमयबितालेंगे।उनकोजनताकीपीड़ासेक्यालेना-देना?जनप्रतिनिधिकोवोटचाहिएऔरअधिकारीकोसरकारीवेतनमिलतारहनाचाहिए।रज्जूसाललेननिवासीनरेंद्रशर्मानेकहाकिजलजमावसेऐसीपरेशानीकभीनहींहुईथी।जमापानीनिकालनेकेलिएनिगमकोईप्रयासनहींकररहाहै।वार्डपार्षदजमापानीनिकालनेकेलिएअधिकारियोंकोकहते-कहतेथकचुकेहै।अबतककोईकदमनहींउठायागया।केदारनाथरोडनिवासीभोलुकुमारनेकहाकिनिगमकोसिर्फटैक्सचाहिए।जनतानारकीयजीवनजीरहीहैइससेउसेकोईलेना-देनानहींहै।निगमकीनाकामीसेलोगोंमेंआक्रोशबढ़रहाहै।जल्दहीजनतानिगमकाघेरावकरेगी।

बाजारमेंजलजमाव,व्यवसायचौपट

हल्कीबारिशहोनेपरभीबाजारमेंपानीजमाहोजाताहै।यहकईदिनोंतकनहींनिकलता।इससेव्यवसायियोंकोआर्थिकमारझेलनीपड़रहीहै।पहलेसेहीकोरोनासेलाकडाउनकीमारझेलरहेदुकानदारोंकोअबजलजमावकीपीड़ाझेलनीपड़रहीहै।आमगोलाव्यवसायीसंघकेअध्यक्षएवंभाजपानेताराकेशपटेलनेकहाकिजलजमावसेदुकानदारोंकाव्यवसायचौपटहोरहाहै।यदिजल्दइससमस्यासेनिजातनहींमिलीतोआमगोलाकेव्यवसायीसड़कपरउतरकरप्रदर्शनकरनेकोबाध्यहोंगे।