मतदान करने के लिए मीलों का सफर तय करके आए वोटर

बिजनौर,जागरणटीम।मतदानकरनेकेलिएमतदाताभीजागरुकतादिखारहेहैं।मतदानकरनेकेलिएबाहरीराज्योंमेंनौकरीकररहेमतदाताएकदिनकेलिएघरआएहैं।वेमतदानकरनेकेलिएकाफीलंबासफरतयकरकेआएहैंऔरमतदानकरनेकेबादवापसलौटजाएंगे।ऐसेमतदातादूसरोंकेलिएमिसालभीबनरहेहैं।

साकेतकालोनीनिवासीतनुमोहनबेसिकशिक्षाविभागमेंशिक्षिकाहैं,अलीगढ़मेंतैनातहैं।वहांपहलेचरणमेंमतदानहोचुकाहै।तनुमोहनइसमेंबीएलओरहीं।वेबतातीहैंकिउन्होंनेघर-घरजाकरमतदाताओंकोप्रेरितकरमतदानकराया।अबउनकेवोटडालनेकानंबरथातोवेएकदिनकीछुट्टीलेकरआईहैं।मतदानकरअपनाजिम्मेदारमतदाताहोनेकाकर्तव्यनिभाएंगी।बिजनौरथानेकेसामनेरहनेवालेरशांकशर्मागुजरातकेअहमदाबादजिलेमेंएकरिफाइनरीकंपनीमेंकामकरतेहैं।उन्होंनेकंपनीसेकाफीसमयसेछुट्टीनहींलीथीऔरअबमतदानकेसमयआएहैं।रशांकनेबतायाकिउन्होंनेअबतककेसभीचुनावोंमेंवोटडालाहै।जबदेशमेंहीरहरहेहैंतोवोटडालनेकाकर्तव्यतोपूराकरनहीथा।साकेतकॉलोनीनिवासीइंजीनियरगौरवकुमारदिल्लीमेंएककंपनीमेंसेवारतहैं।वेभीमतदानकरनेकेलिएघरआएहैं।उन्होंनेबतायाकिपिछलेचुनावमेंवोटडालनेकेलिएएकदिनपहलेरातनौबजेघरसेनिकलेथेऔरभीड़कीवजहसेरातकोएकबजेघरपहुंचेथे।सुबहमतदानकियाऔरदोपहरमेंफिरदिल्लीचलेगएथे।बतायाकिकंपनीमेंकामकररहेउनकेदूसरेजिलोंकेसाथीभीअपनेअपनेजिलोंमेंमतदानकरनेजारहेहैं।