मरीजों को स्‍वस्‍थ करने के साथ वेंटीलेटर पर पड़े पौधों को जिंदगी देते हैं डा. हेमंत चौहान

रुद्रपुर,जागरणसंवाददाता:पर्यावरणहमारेजीवनकाहिस्‍साहै।पौधेलगानाहीनहींबल्किउन्हेंसंरक्षितकरनाभीहमारीजिम्मेदारीहै।इसबातकोचरितार्थकररहेहैंरुद्रपुरकेडा.हेमंतचौहान।पेशेसेचिकित्सकहोनेकेनातेलोगोंकीजिंदगीतोबचातेहीहैं,इसकेसाथपौधोंकोभीनयाजीवनदेतेहैं।सड़ककिनारे,आसपासजंगलोंमें,स्कूल-कालेज,सरकारीपरिसरमेंऐसेपौधोंकाचयनकरतेहैंजोसूखनेकीकगारपरहोयाफिरनष्टहोरहेहों।उसकाख्यालखुदतबतकरखतेहैंजबतकपौधावृक्षकारूपनलेले।

भागदौड़भरीजिंदगीमेंनौकरीपेशावालेहोंचाहेसरकारीकर्मचारी,हरकिसीकीख्वाहिशहोतीहैमकानबनानेकेसाथसुखसुविधाओंकोबढ़ानेकीहोतीहै।इनसबबातोंसेपरेएकऐसेसख्सिशतभीहैं,जोमकानकीनहींबल्किखुदकाजंगलविकसितकरनेकासपनासंजोएहैं।मूलरूपसेगंगापुररोडनिवासीडा.हेमंतचौहाननेवर्ष,2004मेंअपनीडाक्टरीकीपढ़ाईपूरीकी।इसकेबादवर्तमानमेंजिलाअस्पतालमेंकोविडचिकित्सककीजिम्मेदारीसंभालरहेहैं।पर्यावरणसंरक्षणकोलेकरपहलेसेहीगंभीररहनेकेसाथहीहरवर्षपर्यावरणसंरक्षणपरकामकरतेहैं।अबतककईस्कूलों,सरकारीकार्यालयों,हाइवेकिनारे,विभागोंमेंपौधारोपणकरचुके।इनकाउद्​देश्यपौधारोपणसेअधिकउसकेसंरक्षणपररहताहैं।

जिसप्रकारचिकित्सकहोनेकेनातेलोगोंकीजिंदगीबचातेहैं,उसीप्रकारअबतक2000सेअधिकऐसेपौधोंकाचयनकरकेउन्हेंजीवितकियाहैजोअपनाअस्तित्वखोनेवालेथे।सूखरहेपौधेववृक्षोंकाचयनकरउसमेंखाद,पानी,सुरक्षाकेलिएट्रीगार्डऔररोजानाउसकीदेखभालकरतेहैं।डा.हेमंतपंतनगरविविसेखिरनीआदिकेपौधेलाकरहाइवेकेकिनारेरोपेहैं।करीब100पेड़लगाकरउसकीदेखभालकरतेहैं।इसकेअलावास्टरकुलियाकापौधाहाइवेकिनारेलगायाहै।इसकीखासियतहैकिइसपौधेको90डिग्रीपरमोड़नेपरभीनहींटूटता।इनकाकहनाहैकिसरकारकोपर्यावरणकेलिएभीनएनियमऔरकानूनलानेहोंगे।तमामनिर्माणकार्यहोनेपरजोभीपेड़ोंकीकटाईहोउसकेबदलेपहलेहीदोगुनापौधेलगाएजाएंऔरउसकीदेखभालकेलिएनियुक्तिभीदें।

अबतकपांचहजारसेअधिकपौधोंकोदियाजीवनदान

कोविडकेदौरानआक्सीजनकीकमीनेलोगोंकोपर्यावरणकेप्रतिगंभीरबनायाहै।डा.हेमंतवैसेतो10वर्षोंसेपर्यावरणसंरक्षणकेलिएकामकररहेहैं,लेकिनपिछलेपांचवर्षोंमेंउन्होंनेदोगुनाकामकियाहै।खुदकेपैसोंसेपौधेखरीदकरऐसेव्यक्तिकोबंटतेहैंजोउसकीदेखभालकरसके।इसकीमानिटरिंगभीखुदकरतेहैं।इसकेसाथहीसार्वजनिकस्थानोंपरखुदपौधारोपणकरउसकीदेखभालकरतेहैं।

जंगलबनानेकीख्वाहिश

डा.हेमंतकोमकानबनानेकीख्वाहिशभलेहीनहो,लेकिनजंगलबनानेकीसपनाहै।बतातेहैंकिजमीनमिलेतोउसमेंसबऔषधीयगुणोंकेसाथहीऐसेपौधोंकोलगाएंजोधीरे-धीरेकमहोरहेहैं।उसपूरेजंगलकीदेखभालस्वयंकरनेकीइच्छाहै।

कपूरकेपेड़परभीजोर

पंतविविसेवअन्यनर्सरीसेडा.हेमंतनेकपूरकेपौधेलाकररोपेहैं।कईऐसेगरीबऔरजिम्मेदारलोगोंकोकपूरकापौधालगानेकेलिएदिएहैंजोथोड़ीआमदनीभीउससेकरसके।कपूरकेपत्तोंसेलेकरजड़तकसेकपूरतैयारकियाजासकताहै।करीब50गरीबलोगोंकोचुनकरउन्हेंपौधेदिएहैं।वर्तमानमेंवहअबबड़ेहोरहेहैं।बड़ाहोनेपरइसकीछटाईकरकेवहआमदनीभीकरसकेंगेऔरपर्यावरणकोभीबढ़ावामिलेगा।

हर्बलगार्डनबनाएंगेजल्द

पौधोंकीगुणवत्ताऔरप्रचूरमात्रामेंऔषधीयगुणोंकोदेखतेहुएडा.हेमंतजल्दहर्बलगार्डनतैयारकरनेवालेहैं।इसमेंनीम,आंवला,वट,पीपल,चंदन,खिरनीआदिकेपौधेलगाएंगे।इसकेसाथहीपरतीजमीनकीतलाशहै,जहांउन्हेंजगलबसानेकीअनुमतिमिलजाएयाखुदसेखरीदकरउसमेंजंगलतैयारकरनेकालक्ष्यहै।डा.हेमंतचौहानकहतेहैंकिपौधे1000नहींबल्कि10हीलगाएंलेकिनउसकीसुरक्षाकीजिम्मेदारीखुदलें।इसकेलिएलोगोंकोजागरूकहोनाहोगा।