मलोट में बेकाबू हुआ डेंगू, आठ वर्षीय बच्ची की मौत

जागरणसंवाददाता,मलोट(श्रीमुक्तसरसाहिब)

मलोटमेंडेंगूनेविकरालरूपअख्तियारकरलियाहै।शुक्रवारकीरातकोसेठइंद्रभानगलीकेनिवासीसरकारीस्कूलकेशिक्षकरणजीतसिंहपाटिलकीआठवर्षीयबेटीइशकीरतकौरकीडेंगूसेमौतहोगई।वहपिछलेकईदिनोंसेबुखारसेपीड़ितथी।30सितंबरकोजबउसकाडेंगूटेस्टकरवायागयातोवहपाजिटिवपाईगई।इसकेबादसेवहयहांकेएकनिजीअस्पतालमेंदाखिलथीजहांउसनेदमतोड़दिया।जबइशकीरतकीरिपोर्टपाजिटिवपाईगईतोस्वास्थ्यविभागकीटीमनेतुरंतउनकेघरपरपहुंचकरविभिन्नस्थानोंकीचेकिगकीतोपानीकीटंकीसेडेंगूकालारवापायागया।टीमनेइसलारवाकोनष्टकरतेहुएपूरेघरमेंइंसेक्टीसाइडकाछिड़कावकियाथा।बच्चीकीडेंगूसेबादस्वास्थ्यविभागमेंभीहड़कंपमचगयाहै।

यूंतोपूरेश्रीमुक्तसरसाहिबजिलेमेंहीडेंगूनेअपनेपांवपसाररखेहैं।जिलेमेंडेंगूमरीजोंकीसंख्या425परपहुंचचुकीहै।लेकिनसबसेभयावहस्थितिमलोटब्लाकमेंबनीहुईहै।अकेलेमलोटशहरमेंहीमरीजोंकीसंख्या137परपहुंचचुकीहै।वहींपूरेब्लाकमेंयहआंकड़ा200केकरीबपहुंचचुकाहै।हालांकिस्वास्थ्यविभागकीओरसेअपनेस्तरपांच-पांचकर्मचारियोंकीपांचटीमोंकोमलोटब्लाकमेंउताराहुआहै।जोकिहररोजघर-घरजाकरडेंगूकालारवाचेककररहीहैं,वहींलोगोंकोजागरूकभीकररहीहैं।लेकिनइसकेबावजूदडेंगूकाप्रकोपकमहोनेकीबजायबढ़ताहीजारहाहै।

मलोटब्लाकमेंहररोज10से15केसडेंगूकेपाजिटिवआरहेहैं।शहरमेंअबतक38जगहोंसेडेंगूकालारवामिलचुकाहैजिसमें18सार्वजनिकस्थानहैं।हालांकिसिविलअस्पतालमेंभीडेंगूकेतीनमरीजदाखिलहैंलेकिनअधिकतरमरीजयातोनिजीअस्पतालोंमेंदाखिलहैं,याफिरघरोंमेंदवाईखारहेहैं।इनसेट

शहरमेंउतारीगई15टीमें:एसएमओ

सीनियरमेडिकलअधिकारीडा.रश्मिचावलाकाकहनाहैकिहालांकिस्वास्थ्यविभागकीओरसेडेंगूकीरोकथामकेलिएहरसंभवकदमउठाएजारहेहैं।विभागके15कर्मियोंकीपांचटीमेंहररोजब्लाकमेंकरीब500घरोंमेंपहुंचकरलोगोंकोजागरूककररहीहैं।इसदौरानटीमेंडेंगूकालारवाचेककररहीहैं।डेंगूकालारवामिलनेपरइंसेक्टीसाइडकाछिड़कावभीकररहीहैं।विभागअपनेस्तरपरतोप्रयासकररहीरहाहै,लेकिनइसमेंलोगोंकासहयोगभीबहुतजरूरीहै।लोगोंकोअपनेघरयाआसपासकहींभीपानीनहींजमाहोनेदेनाहै।सबलोगोंकोइसकेप्रतिसचेतहोनाहोगा।सबमिलकरहीइसपरकाबूपासकतेहैं।