महंगाई की मार, फिर भी बाजारों में बढ़ी रौनक

संवादसहयोगी,किशनगंज:रंगोंकात्योहारहोलीपर्वनजदीकआगयाहै।पिछलेदोवर्षोंसेकोरोनासंक्रमणकेखतरेऔरबढ़तीमहंगाईकेबावजूदइसबारहोलीपर्वकोलेकरलोगोंकेचेहरेपरखुशीझलकरहीहै।पिछलेदोवर्षोंकेसूनेजीवनकोलोगइसबारकीहोलीमेंरंगीनबनानेकाहरसंभवप्रयासकररहेहैं।अभीसेहीलोगबाजारमेंखाद्यसामग्रीकेसाथनए-नएकपड़ोंकीखरीदारीकरनेमेंलगगएहैं।रंगकेसाथपिचकारीकाबाजारभीधीरे-धीरेपरवानचढ़नेलगाहै।

पिछलेवर्षकीतुलनामेंइसवर्षखाद्यसामग्रियोंकीकीमतमेंकाफीउछालआयाहै।इससेलोगोंकीचितातनिकबढ़गईहै।बतातेचलेंकिपिछलेचारमहीनोंमेंखाद्यतेलोंकीकीमतोंमेंरिकार्डतोड़बढ़ोतरीहुईहै।इनमेंसरसोंकेतेलसेलेकरपामआयल,सूरजमुखी,नारियल,मूंगफलीसहितकईअन्यतेलशामिलहैं।वर्तमानसमयमेंसरसोतेलकीकीमत180सेलेकर185रुपयेतकपहुंचगएहैं।रिफायनआयलकीकीमतभी170रुपयेप्रतिलीटरतकपहुंचगएहैं।देखाजाएतोतेलकीकीमतोंमें40फीसदतककीबढ़ोतरीहोगई।इससमयमसूरदाल100रुपयेप्रतिकिलो,चनादान70रुपेयप्रतिकिलो,अरहर110रुपयेप्रतिकिलो,चनादाल70रुपयेप्रतिकिलो,मूंगदानभी100रुपयेप्रतिकिलोबिकरहेहैं।

नमक18रुपयेप्रतिकिलोसेबढ़कर22रुपयेप्रतिकिलोहोगएहैं।सलाईकीकीमतपांचरुपयेप्रतिपैकेटसेबढ़कर10रुपयेप्रतिप्रतिपैकेटहैं।चनाबेसनकीकीमत70रुपयेसेबढ़कर90रुपयेप्रतिकिलोहोगएहैं।25किलोवजनवालेप्रतिपैकेटमें50सेलेकर100रुपयेतककीबढ़ोतरीहोगईहै।जबकिचीनी30रुपएसेबढ़कर50रुपयेप्रतिकिलोबिकरहेहैं।काबुलीचनामें90रुपयेप्रतिकिलोहोगयाहै।चारसौग्रामपैकेटवालेदालमोटकीकीमत70रुपयेसेबढ़कर80रुपयेहोगएहैं।इसकेबावजूदलोगहोलीपर्वकोलेकरखरीदारीमेंलगगएहैं।बाजारमेंहरसमयलोगोंकीभीड़लगीरहतीहै।