महिला बैरक में बने दीयो से रोशन होगी जेल

सिद्धार्थनगर:जिलाकारागारमेंदीपावलीकीतैयारियांशुरूहोगईहै।कैदियोंकोजिम्मेदारियांसौंपीगईहै।सभीआपसीसौहार्दकोकायमरखतेहुएदीपोत्सवमनानेमेंजुटेहैं।महिलाकैदियोंकोदीयेबनानेकीजिम्मेदारीसौंपीगईहै।जेलकेअधिकारीवकर्मचारियोंनेआपसीसहयोगसेस्वचलितचाककीव्यवस्थाकी।बाहरसेमिट्टीभीमंगाईगईहै।अबमहिलाबैरकमेंदीयेतैयारहोरहाहै।वहींपुरुषकैदियोंकोसभीबैरकमेंरंगोलीबनानेकीजिम्मेदारीदीगईहै।महिलाबैरकमेंअनिता,सुमन,साक्षी,सुनीता,दीयेबनारहींहैं,वहींपुरुषकैदीमेंजयप्रकाश,अनीसभारती,अनिलयादव,अवधेश,सूरजआदिरंगोलीबनानेमेंजुटेहै।

जेलमेंनिरुद्धहै862कैदी

जिलाकारागारमेंकुल862कैदीनिरुद्धहै।इसमें242सिद्धदोषकैदीहै।इसमें224पुरुषव18महिलाएंशामिलहै।620विचाराधीनमें566पुरुषव54महिलाहैं।महिलाबंदियोंकेसाथदसबच्चेभीजेलमेंरहरहेहैं।जबकिआठकैदीजिलाकारागारअस्पतालमेंभर्तीहैं।

भैयादूजपरमाथेपरलगेगीबहनोंकीरोली

कारागारप्रशासननेभैयादूजभीमनानेकीतैयारीकीहै।कोविड-19कोदेखतेहुएबहनवभाईकामिलापनहींहोसकेगा।दोदिनपहलेतकजेलमेंबंदकैदीभाईकोबहनेंरोलीवअक्षतभेजसकतीहै।मिठाईकेरूपमेंपैकेटमेंसोनपापड़ीवलड्डूअंदरभेजाजासकेगा।

जेलअधीक्षकराकेशसिंहनेबतायाकिजेलमेंदीपावलीकीतैयारियांशुरूहोगईहै।कैदीपूरेमनोयोगसेजुटगएहैं।सभीकोजिम्मेदारियांसौंपीगईहै।आपसीसौहार्दकेसाथकैदीजेलमेंदीपोत्सवमनाएंगे।भैयादूजपरकैदीकोबहनेंरोलीवमिठाईभेजसकेंगी।