महाविद्यालय में प्रवेश के बाद भी सेल्फ स्टडी का सहारा

जेएनएन,बदायूं:कोरोनाकासंक्रमणकमहोनेपरस्नातकवपरास्नातकमेंप्रवेशप्रक्रियापूरीहोचुकीहैं।कक्षाओंकाभीसंचालनशुरूकियागयाहै।लेकिन,स्टाफकीकमीसेछात्राएंपरेशानहैं।राजकीयमहिलामहाविद्यालयमेंबहुतसेविषयोंकास्टाफहीनहींहै।महाविद्यालयमेंविषयोंकीपढ़ाईनहोनेसेछात्राएंसेल्फस्टडीकरतीहैंयाइंटरनेटकासहारालेकरपढ़तीहैं।आलमयहहैकिवर्ष2016सेमहाविद्यालयमेंकक्षाओंकासंचालनशुरूहोनेकेबादसेरसायनविज्ञानविषयपरस्टाफकीतैनातीनहींकीगई।अन्यकॉलेजोंसेस्टाफकोबुलाकरकक्षाएंसंचालितकराईजारहीहैं।महाविद्यालयमेंअसिस्टेंटप्रोफेसरके15पदोंकेसापेक्षछहहीकार्यरतहैं।नौखालीचलरहेहैं।उर्दू,पॉलीटिकलसाइंस,अर्थशास्त्र,कामर्स,जीवववनस्पतिविज्ञान,रसायनविभागविषयपढ़ानेकेलिएएकभीशिक्षकनहींहै।वनस्पतिविज्ञान,उर्दू,जीवविज्ञानविषयकेस्टाफकीतैनातीथीलेकिनउनकास्थानांतरणहोगया।जीवविज्ञानऔररसायनविज्ञानपढ़ानेकेलिएदूसरेमहाविद्यालयसेकभी-कभीस्टाफकोबुलाकरपढ़ाईकराईजातीहै।छात्राएंसमयसेमहाविद्यालयआतीहैं।लेकिन,उनविषयोंकास्टाफनहोनेपरकक्षाएंनहींलेपातीं।पुस्तकालयअध्यक्षकापदभीलगातारखालीचलरहाहै।छात्राओंकेपंजीकरणकीस्थिति:

रसायनविज्ञान111

वनस्पतिविज्ञान157छात्राओंकेबोल:फोटो28बीडीएन15

अर्थशास्त्रविषयमेंस्टाफकीजरूरतहै।कक्षामेंऔरआनलाइनपढ़नेमेंजमीन-आसमानकाअंतरहै।समस्याहोनेपरहलनहींमिलपाताहै।

-निशाफोटो28बीडीएन16

रसायनविज्ञानकेस्टाफकीतैनातीनहोनेसेपरेशानीहोतीहै।पुस्तकालयसेकिताबेंलेकरसेल्फस्टडीकररहेहैं।

-अजकाखानफोटो28बीडीएन17

कभी-कभारअन्यकालेजोंकेशिक्षकआकरपढ़ातेहैं।उसकेबादविषयपढ़नेमेंपरेशानीहोरहीहै।समस्याहोनेपरहलनहींमिलताहै।

-प्रियंकाफोटो28बीडीएन18

विषयोंकीजानकारीआनलाइनलेकरपढ़ाईकरतेहैं।कईबारविषयोंमेंअटकजातेहैंजिसकाहलनहींमिलपाता।