महामारी के कारण भारतीय फुटबॉल खिलाड़ी मैच और अभ्यास के बाद स्टेडियम में नहीं ले रहे आइस बाथ

दोहा,13जून(भाषा)भारतीयफुटबॉलखिलाड़ीमैचऔरअभ्यासकेबादआमतौरपरस्टेडियमकीसुविधाकाइस्तेमालकरतेहुएवहां‘आइस-बाथ’लेतेहैंलेकिनकोविड-19महामारीकेकारणवेऐसाकरनेसेबचरहेहै।खिलाड़ीमैचऔरअभ्यासकेबादआमतौरपरबर्फकेटुकड़ोंवालेपानीमेंकुछदेरबैठतेहैं।इसेआइसबाथकहाजाताहै।मानाजाताहैकिबर्फीलेपानीमेंनहानेसेमांसपेशियोंकोआराममिलताहैऔरशरीरजल्दीतरोताजाहोताहै।भारतीयटीम2022फीफाविश्वकपऔर2023एशियाईकपकेसंयुक्तक्वालीफाइंगअभियानकेलिएकतरकीराजधानीमेंहै।भारतीयटीमकेचिकित्सकशेरविनशेरिफनेएआईएफएफसेकहा,‘‘संक्रमणकेफैलनेकीकिसीभीसंभावनाकोरोकनेकेलिएहमअपनेहोटलकेकमरोंकेबाथटबमेंआइस-बाथकररहेहैं।’’शेरिफटीमकेसहयोगीसदस्योंमेंशामिलहैजोपर्देकपीछेसेमहत्वपूर्णभूमिकानिभारहेहैं।उनकेयोगदानसेसुनीलछेत्रीऔरगुरप्रीतसिंहसंधूजैसेखिलाड़ियोंकोमैदानमेंअच्छाप्रदर्शनकरनेमेंमददमिलरहीहै।भारतीयटीमकेमुख्यकोइगोरस्टिमकनेकहा,‘‘सहयोगीसदस्यटीमकेलिएअमूल्यहैं।वेअसलीखिलाड़ीहैं।उनकीविशेषज्ञताकेबिना,कोईभीफुटबॉलटीमकभीआगेनहींबढ़सकती।’’टीमकीचिकित्साइकाईकोवरिष्ठफिजियोथेरेपिस्टगिगीजॉर्जसंभालतेहैंजोमैदानमेंमुश्किलदिनकेबादखिलाड़ियोंकेठीकहोनेपरजोरदेतेहैं।उन्होंनेकहा,‘‘खिलाड़ियोंकीथकानदूरकरनासबसेअहमहै।सुबहकेसत्रमेंहमपैरकीमांसपेशियोंऔरटखनोंकीसीमाकेलचीलेपनकीजाँचकरतेहैं।खिलाड़ियोंकीनींदऔरथकानयाचोटकेआकलनकेबादउसकीउपचारकीयोजनाबनतीहैं।’’गिगेनेकहा,‘‘रोकथामइलाजसेबेहतरहै।’’शेरविननेकहाकिखिलाड़ियोंकीजांचकोसिर्फशिविरतकसीमितनहींरखाजाताहै।उन्होंनेकहा,‘‘आधुनिकफ़ुटबॉलमेंआपकोहरएकमिनटप्रत्येकखिलाड़ीपरनजररखनेकीजरूरतहोतीहै।जबखिलाड़ीशिविरमेंनहींहोतेहैं,तोयहहमारीजिम्मेदारीहैकिहमइसपहलूपरपूछताछकरेंऔरहरकिसीकोबेहतरस्थितिमेंरहनेकेलिएविशेषकार्यक्रमप्रदानकरें।’’