मौसम का मिजाज बदलते ही बढ़े खांसी-जुकाम के मरीज

हरदोई:मौसमपरिवर्तनकेसाथहीबीमारियोंकाप्रकोपदिखानाशुरूहोगयाहै।कोरोनासंक्रमितोंकीसंख्यापरतोलगामलगाहै,लेकिनइसकेलक्षणोंमेंशामिलखांसी,जुकाम,बुखारसेलोगोंकोकोरोनाकाभीडरसतारहाहै।कुछलोगतोसंक्रमणकीजांचकरारहेहैं,वहींकुछलोगजांचकरानेसेकतराभीरहेहैं।

जिलाअस्पतालकेओपीडीमेंइलाजकेलिएकरीबसातसौसेअधिकनएमरीजअस्पतालपहुंचे।इसमेंसर्दीजुकाम,खांसीऔरवायरलबुखारकेमरीजशामिलहैं।मौसमीबीमारियोंकेसबसेज्यादामरीजबच्चेहैं,जोसर्दी,खांसी,बुखार,गलेमेंजकड़नकीशिकायतलेकरआरहेहैं।डाक्टरोंकीसलाहपरध्यानदेंतोकहींनकहींमौसमीबीमारियोंकेप्रकोपसेबचाजासकताहै।

बरतेंयेसावधानियां:सर्दी-खांसीववायरलफीवरकेप्रकोपसेबचावकेलिएभरपूरखानाखानेकीसलाहचिकित्सकोंद्वारादीजातीहै।साथहीगुनगुनापानीपीने,गर्मकपड़ेपहननें,सुबह-शामकीसर्दीसेबचने,ठंडीचीजोंकासेवननकरनेतथासर्दी-जुकामहोनेपरचिकित्सककीसलाहलेनेकीबातेंबताईजारहीहैं।इसकेसाथहीमास्ककाप्रयोगअनिवार्यरूपसेकरनेकीसलाहदीजातीहै।

मच्छरोंसेलोगपरेशान:दिसंबरमेंसर्दियांशुरुहोनेकेबादभीमच्छरोंसेलोगपरेशानहैं।मच्छरोंकेकारणलोगचेनसेसोतकनहींपारहेहैं।शहरसेलेकरगांवक्षेत्रोंतकगंदगीकेकारणमच्छरोंकीतादातबढ़तीजारहीहै,जिससेलोगपरेशानहैं।

बोलेचिकित्सक:दिनमेंतोमौसमगर्महोताहै,लेकिनसुबहऔररातमेंपहनावेपरध्यानरखनाचाहिए।मौसमबदलनेकेकारणखांसी-जुकामवबुखारकेमरीजोंकीसंख्याबढ़ीहै।इसलिएबदलतेमौसममेंअधिकसावधानीबरतनेकीजरूरतहै।ताकिबीमारियोंसेबचाजासके।

डॉ.मनोजदेशमणि,ईएमओजिलाअस्पताल