मांझा में बाढ़ से चार हजार हेक्टेयर में लगी फसल बर्बाद

गोपालगंज।मांझाकेपुरैनामेंसारणतटबंधटूटनेसेगंडकनदीमेंआईविनाशकारीबाढ़सेमांझाप्रखंडकेहजारोंलोगबेघरहोगएहैं।इसप्रखंडकेदेवापुर,निमुइयां,पुरैना,पथरा,भैसहींसहित22गांवोंमेंबाढ़कापानीभरनेसेहजारोंलोगबेघरहोकरऊंचेस्थानोंपरशरणलेरहेहैं।बाढ़नेइनगांवोंकेग्रामीणोंकोबेघरकरनेकेसाथहीइनकीआगेकीउम्मीदपरभीपानीफेरदियाहै।बाढ़प्रभावितइलाकेमेंखेतपानीसेलबालबभरगयाहै।बाढ़केपानीमेंपूरीतरहसेडूबनेसेइसइलाकेचारहजारहेक्टेयरमेंलगीधान,मक्का,गन्नावसब्जीकीफसलेंगलनेसेपूरीतरहसेबर्बादहोगईहैं।

इसबारमानसूननेकिसानोंकोसाथदियाथा।अच्छीबारिशहोनेसेकिसानोंनेसमयसेधानकीफसलकीरोपनीकरलीथी।बारिशहोनेसेगन्नेकीफसलकोभीकाफीलाभहुआ।फसलेंखेतोंमेंलहलहारहीथीं।लेकिनइसीबीचपुरैनामेंसारणतटबंधटूटनेसेगंडकनदीमेंआईविनाशकारीबाढ़कीचपेटमेंमांझाप्रखंडकाआधाहिस्साआगया।बाढ़कापानीदेवापुर,निमुइयां,पुरैना,पथरा,भैसहींसहित22गांवोंमेंभरगया।खेतभीलबालबपानीसेभरगए।जिससेचारहजारहेक्टेयरमेंलगीफसलेंपानीमेंडूबगईहैं।इसइलाकेकेग्रामीणोंनेबतायाकिबाढ़नेबेघरकरदियाहै।बाढ़केपानीमेंपूरीतरहसेफसलडूबगईहै।जिससेगलनेसेधान,मक्का,गन्नातथासब्जीकीफसलेंबर्बादहोगईहैं।बाढ़नेकिसानोंकीउम्मीदोंकोपानीमेंडूबोदिया।