माघ मेला प्रयागराज में बदला ट्रेंड, पुण्य के लिए कार, बाइक, लैपटाप और फ्रिज भी दान कर रहे कल्पवासी

प्रयागराज,जागरणसंवाददाता।संगमतटसेविदाईकीबेलाआगईहै।घर-गृहस्थीमेंलौटनेसेपहलेकल्पवासीशैयादानकररहेहैं।जीवन-मृत्युकेबंधनोंसेमुक्तिपानेकीसंकल्पनाकोसाकारकरनेकेलिएमाघमेलामेंमंगलवारकोदिनभरशैयादानचला।'यथाशक्तितत्रदाने,शैयादानस्वयंप्रभा...केभावसेकल्पवासीतीर्थपुरोहितोंकोदानकररहेहैं।हालांकिमाघमेलामेंदानकाट्रेंडथोड़ाबदलादिखरहाहै।अबकल्पवासीअपनी कार,स्कूटी,बुलेटबाइक,एलईडी,लैपटाप,कम्प्यूटर,डबलबेड,फ्रिज,जेवरातआदिभीदानकररहेहैं।

दानमेंमिलीतीर्थपुरोहितकोकार

माघमेलामेंमहावीरमार्गपरशिविरलगानेवालेतीर्थपुरोहितविनयमिश्रकेकल्पवासीसिंगरामऊजौनपुरनिवासीशेषमणिमिश्रनेस्कूटी,डबलबेड,फ्रिज,अनाजआदिदानदेकरआशीर्वादलियाहै।तीर्थपुरोहितगंगामहासभाकेअध्यक्षधीरजशर्माकेसंगमअपरमार्गस्थितशिविरमेंकल्पवासकरनेवालीलखनऊकीरेखात्रिपाठीनेरायलइनफील्डबुलेट,गाय,फ्रिज,डबलबेड,एलईडीआदिदानदियाहै।पांटूनपुलकेपासनिशानतबेलियाकेतीर्थपुरोहितराजेशतिवारीकोरीवा(मध्यप्रदेश)निवासीकल्पवासीकौशलेंद्रप्रतापनेपलंग,सोफा,कंप्यूटर,हीरोहोंडाबाइकआदिदानदियाहै।कालीमछलीनिशानकेतीर्थपुरोहितविनयकुमारमिश्रकेयजमानजौनपुरनिवासीविद्याधरशुक्ल,रामकृपालशुक्ल,हरिश्चंद्रमिश्रनेसंयुक्तरूपसेमारुतिसेलेरियोकारदानदिया।यहदानमेलाक्षेत्रमेंचर्चाकाकेंद्ररहा।

सदियोंसेहैदानकीपरंपरा

प्रयागराजमेंमाघमासमेंदानकरनेकाअक्षयपुण्यप्राप्तहोताहै।स्नान-दानकीपरंपरासदियोंसेचलीआरहीहै।प्राचीनकालमेंमहाराजाहर्षवर्धनप्रतिवर्षमाघमासमेंसंगमस्नानकरनेआतेथे।स्नानकेबादसमस्तसंपदादानकरकेएकवस्त्रमेंलौटतेथे।

12वर्षमेंहैदानकाविधान

श्रीधर्मज्ञानोपदेशसंस्कृतमहाविद्यालयकेपूर्वप्राचार्यआचार्यदेवेंद्रप्रसादत्रिपाठीबतातेहैंकिकल्पवास12वर्षमेंपूर्णहोताहै।शैयादानकरनेपरहीकल्पवासकापूर्णफलप्राप्तहोताहै।इसे'श्रेयोदानÓभीकहतेहै,अर्थातश्रेयकेलिएदानकरनेकाविधानहै।उसीकोशैयावसजियादानकहतेहैं।अग्निपुराण,स्कंधपुराणमेंइसकाजिक्रहै।इसमेंगृहस्थीकीवोसमस्तसामग्रीदानदीजातीहै,जिसकाउपभोगकल्पवासीकरतेहैं।इसीकारणवाहन,टीवी,बेड,घड़ी,फ्रिज,गायवअन्नआदिकादानदियाजाताहै।इसकेजरिएकल्पवासीअगलाजन्मभीइसीतरहसुखीवसंपन्नपानेकीकामनाकरतेहैं।शैयादान12वर्षमेंकियाजाताहै।जोकल्पवासी12वर्षकल्पवासकरनेमेंअसमर्थहोतेहैंवोपहलेहीदानकरदेतेहैं।

जानिएइनकाक्याहैकहना

शैयादानमेंउपभोगकीजानेवालीचीजेंदानहोतीहैं।पहलेराजा-महाराजतीर्थपुरोहितोंकोहाथी,घोड़ा,सोना,चांदी,रत्न,सैकड़ोंबीघाखेतवरियासतदानकरतेथे।अबउसकीजगहकार,बाइक,बुलेट,फ्रिज,डबलबेड,कंप्यूटरआदिकादानदियाजाताहै।

-राजेंद्रपालीवाल,अध्यक्षप्रयागधर्मसंघ