लॉकडाउन में घट गए मनीऑर्डर

सिद्धार्थनगर:लॉकडाउनसेपहलेहरमाह60से70मनीऑर्डरआतेथे।लेकिनप्रवासियोंकाघरआनेसेसंख्याकाफीकमहोगयाहै।हालांकिपोस्टमैनकेकामऔरबढ़गएहैं।वहघर-घरपहुंच10हजारतककाभुगतानकररहेहैं,जिसकाफायदालोगोंकोमिलरहाहै।इससेउन्हेंबैंककाचक्करभीनहींलगानापड़रहाहै।

प्रधानडाकसहित36शाखासे25मार्चसे23मईतककुल15मनीऑर्डरआयाहै।लॉकडाउनसेपूर्वहरमाहलगभग36से40मनीऑर्डरआरहेथे।

मुंबई,दिल्ली,सूरतआदिमहानगरोंमेंरहनेवालेकामगार,श्रमिकअपनेपरिजनकेपासघरखर्चचलानेकेलिएमनीऑर्डर(पैसा)भेजतेहैं।हालांकिज्यादातरलोगसीधेबैंकखातेमेंपैसाभेजतेहैं।चूंकिकोरोनावायरसकेचलतेलोगघरलौटरहेहैं,इससेपहलेकीअपेक्षामनीऑर्डरकीसंख्याकाफीघटगईहै।मुख्यडाकघरतेतरीबाजारकेपोस्टमास्टरकर्मराजचौधरीनेबतायाकि15दिनकेबीचमेंएकमनीऑर्डर3200रुपयेकाआयाहै।महीनेमेंआठसे10मनीऑर्डरआजाताहै।लॉकडाउनसेसंख्याकमहुईहै।मनीऑर्डरकेमाध्यमसेपांचहजारतकरुपयेमंगायाजासकताहै।जिसकाभुगतानपोस्टमैनसंबंधितकेघरजाकरकरतेहैं।बर्डपुरक्षेत्रकेरामप्रसाद,मालती,बनारसी,पकड़ीक्षेत्रकेभवानी,रामदयाल,राजमननेबतायाकिमनीऑर्डरकेजरियेपैसाआजाताथा।कोरोनाकेडरसेअबतोबच्चेघरआगएहैं।पोस्टमैनघरपरहीजरूरतकेहिसाबसेपैसानिकालदेरहेहैं।इससेबैंकनहींजानापड़रहाहै।