लोगों को असमय काल बनकर निगल रहा है कैंसर

सुरेंद्रचौहान,पलवल

जिलेमेंकैंसररोगतेजीसेपांवपसाररहाहै।पहलेबांसवां,बेढ़ावलुलवाड़ीजैसेगांवोंमेंइसखौफदिखाईदियाथा,वहगांवबघौलामेंसातलोगोंकेकैंसरहोनेऔरचारकीमौतहोनेसेदहशतकामाहौलहै।यहकेवलइनगांवोंकीबातनहींहै,जिलेमेंअमूमनहरगांवमेंहरसालचार-पांचलोगकैंसरकेकारणअसमयकालकाग्रासबनजातेहैं।कोईइसकीवजहआगरावगुड़गांवनहरकेरसायनयुक्तपानीकोमानताहैतोकोईउद्योगोंकेप्रदूषणको,परंतुजिनगांवोंमेंनदूषितपानीहैऔरनहीफैक्ट्रियां,वहांग्रामीणकैंसरसेकैसेपीड़ितहैं,यहस्वास्थ्यविभागभीनहींपतालगापारहाहै।

कुछसालपहलेहोडलकेबेढ़ापट्टीमेंकईलोगोंकेकैंसरहोनेकेबारेमेंपताचलाथा,तबविभागनेगांवकेलोगोंकेरक्तकेनमूनेलेकरजांचकीथी,परंतुजोलोगइलाजकरवारहेथे,वहीकैंसरपीड़ितपाएगए।उसीप्रकारफिरगांवबांसवामेंएकहीसालमेंकैंसरसे16लोगोंकीमौतऔरआधादर्जनसेअधिककेपीड़ितहोनेकेबादकाफीहंगामाहुआ।तबस्वास्थ्यविभागकेनिदेशकतकमामलापहुंचाथाऔरडॉक्टरोंकीटीमनेगांवबांसवांमेंहरव्यक्तिकेरक्तकेनमूनेलेकरजांचकीथी।तबभीइलाजवालेलोगोंमेंहीकैंसरमिला,लेकिनउसकेकुछमाहबादकैंसरकेनएमरीजसामनेआनेलगे।अभीभीगांवकेदर्जनोंलोगइसजानलेवाबीमारीसेजूझरहेहैं।उसकेबादगांवललुवाड़ीकेलोगोंनेसीएमकोपत्रभेजकरगांवमेंकैंसरसेआधादर्जनलोगोंकेपीड़ितहोनेऔरमौतेंहोनेशिकायतकी।टीमनेगांवमेंजांचकीतोवहांभीस्थितिऐसीहीथी।

इनगांवोंमेंज्यादातरपेट,रक्त,रैक्सम,गला,मुंहवब्रेनकैंसरकेमरीजज्यादाहैं।जिनमरीजोंकीमौतहोचुकीहै,उनमेंज्यादातरपेट,रक्तवरैक्समकेपीड़ितथे।

गांवबांसवामेंसुरेश,फैना,सुनीता,नरेश,राधा,यमुना,पप्पन,चतर¨सह,राजवीर,धनराज,गांलाल,फूलवती,लच्छो,धनराज,गोपालकादोवर्षीयपुत्रतथामल्ली,गांवलुलवाड़ीमेंजगदेव,रघुबीर,गिर्राजतथागांवबघौलामेंदेशराज,हरी¨सह,चमेली,बिशन¨सह,रामकिशन,सियारामऐसेनामहैं,जोकैंसरकेकारणअसमयमौतकेशिकारहोचुकेहैं।

आगरानहरऔरगुड़गांवानहरकेसाथबसेगांवोंकेग्रामीणोंकाकहनाहैकिनहरमेंफरीदाबादवदिल्लीआदिमेंस्थितफैक्ट्रियोंकारसायनयुक्तपानीबहताहै,जिससेकिसानखेतोंकी¨सचाईकरतेहैं।उसीकेकारणवेकैंसरकीचपेटमेंआरहेहैं।दूसरीतरहकुछलोगइसेखेतोंमेंरासायनिककीटनाशकोंकेज्यादाइस्तेमालतोकुछखाद्यपदार्थोंमेंमिलावटकोकारणमानतेहैं।बघौलाकेलोगआस-पासस्थापितफैक्ट्रियोंकेप्रदूषणकोकैंसरकाकारणमानतेहैं।बहरहालसहीकारणतोस्वास्थ्यविभागभीनहींपतालगापारहाहै।

बघौलामेंसालमेंचारलोगोंकीकैंसरसेमौतहुईहै,जबकिसातपीड़ितहैं।पूरेगांवमें10टीमेंरक्तकेनमूनेलेकरजांचकररहीहैं।लगभग75प्रतिशतकार्यपूराहोचुकाहै।कैंसरकेवलबघौलाहीनहींअपितुजिलेमेंहरजगहइसीप्रकारसेकैंसरकेमरीजहैं।कैंसरकेकारणअनेकहोसकतेहैं।लोगोंकोअपनेखान-पानऔरदिनचर्यामेंबदलावलानाचाहिए।समय-समयपररक्तकीजांचकरवातेरहनाचाहिए।

-डॉ.बीर¨सहसहरावत,जिलासिविलसर्जन