लखनऊ: विधानसभा उपाध्यक्ष चुनाव में बीजेपी की रणनीति कारगर लेकिन अखिलेश सेंधमारी में सफल

लखनऊ.उत्तरप्रदेशविधानसभाउपाध्यक्षचुनाव(UPAssemblyDeputySpeakerElection)मेंबीजेपीकीरणनीतिभलेहीसफलरहीहो,लेकिनसेंधमारीमेंसपाकीसियासीकसावटभीकामयाबरहीहै.इसचुनावमेंबीजेपीकेनितिनअग्रवाल(NitinAgarwal)नेउपाध्यक्षपदपरजीतदर्जकीहै.उपाध्यक्षपदकेलिएकुछ368मतडालेगएथे,जिसमेंचारमतअवैधघोषितहोनेकेसाथसपाकेनरेंद्र‌सिंहवर्माको60मतमिले.बीजेपीकेनितिनअग्रवालने304मतहासिलकिए.सपाकेपासकुल47हीविधायकथे,लेकिनउसे60वोटहासिलहुएहैं.13विधायकोंनेसपाकेपक्षमेंक्रॉसवोटिंगकरदी.

उत्तरप्रदेशविधानसभाउपाध्यक्षचुनावकोलेकरखासीसियासीगहमागहमीरही.उपाध्यक्षजितानेमेंबीजेपीकीरणनीतिभीसफलरही,लेकिनसपाभीसेंधमारीकरनेमेंकामयाबदिखीहै.इसचुनावमेंक्रॉसवोटिंगकालाभसीधासपाकोमिलाहै.13विधायकोंनेसपाकेपक्षमेंक्रॉसवोटिंगकीहै.समाजवादीपार्टीकेविधायकोंकीकुलसंख्या49है.49मेंसे1विधायक(शिवपालसिंहयादव)और1(नितिनअग्रवाल)संख्याबलमेंशामिलनहींहैं.सपाकेकुलविधायकोंकीसदनमेंसंख्या47थी,लेकिनसमाजवादीपार्टीकोकुल60वोटमिलेहैं.13विधायकोंनेसपाकेपद्वामेंक्रॉसवोटिंगकीहै.

जिनविधायकोंनेवोटिंगकीहैउनमेंसपाके47वोटहैं.इसकेसाथबसपाके8बागीविधायकोंनेसपाकोवोटकरदिया.मानाजारहाहैकिअपनादलकेआरकेवर्माका1वोट,बीजेपीकेसीतापुरकेविधायकराकेशराठौरकावोटभीसपामेंगयाहै.ऐसेमेंयेकुल57वोटहोरहेहैं.ऐसेमेंजाहिरहै3औरवोटोंमेंसपानेसेंधमारीकीहै.

शिवपालऔरराजभररहेनदारद

शिवपालसिंहयादवऔरओमप्रकाशराजभरवोटिंगकरनेसदनमेंनहींआए.ओमप्रकाशराजभरकीपार्टीकेतीनविधायकोंनेहीअपनावोटकास्टकियाहै.

14सालबादहुआहैयूपीविधानसभाउपाध्यक्षकाचुनाव

उत्तरप्रदेशविधानसभाउपाध्यक्षकाचुनाव14सालोंबादहुआहै.इससेपहलेबीजेपीकेराजेशअग्रवालकोइसपदकेलिएजुलाई2004मेंनिर्विरोधचुनागयाथाऔरउनकाकार्यकालमई2007तकथा.इसकेबाद,विधानसभाउपाध्यक्षकाचुनावनहींहुआथा.उल्लेखनीयहैकिविधानसभामेंवर्तमानसमयमेंबीजेपीके304,समाजवादीपार्टीके49,बहुजनसमाजपार्टीकेके16,अपनादलकेनौ,कांग्रेसकेसात,सुहेलदेवभारतीयसमाजपार्टीकेचार,निर्दलीयतीन,असंबद्धसदस्यदोऔरराष्ट्रीयलोकदलतथानिषादपार्टीकेएक-एकविधायकहैं.

ब्रेकिंगन्यूज़हिंदीमेंसबसेपहलेपढ़ेंNews18हिंदी|आजकीताजाखबर,लाइवन्यूजअपडेट,पढ़ेंसबसेविश्वसनीयहिंदीन्यूज़वेबसाइटNews18हिंदी|

Tags:MLACrossVoting,Samajwadiparty,UPAssemblyDeputySpeakerElection,UPpolitics