लखनऊ : बिना नंबर भर रहे 17000 वाहन सड़कों पर फर्राटा, विभागीय लापरवाही गाड़ी मालिकों पर भारी

लखनऊ,जेएनएन।नवरात्रमेंखरीदेगएकरीब17,000वाहनोंकोअभीतकनंबरनहींमिलसका।यहसभीवाहनबिनानंबरसड़कोंपरफर्राटाभररहेहैं।तमामदावोंकेबावजूदऑनलाइनव्यवस्थाध्वस्तनजरआरहीहै।शोरूमसेवाहनोंकीरजिस्ट्रेशननंबरकेलिएफाइलेंआरटीओकार्यालयमेंजमाहैं।एकसंभागीयनिरीक्षककेपासकईकामहोनेकीवजहसेफाइलेंआगेनहींबढ़पारहीहैं।ट्रांसपोर्टनगरआरटीओकार्यालयऔरसंबंधितकाउंटरनंबरएकपरलोगचक्करलगारहेहैं।

गाड़ीमालिकपंजीयनप्रमाणपत्रकेलिएशोरूमकेचक्करलगानेकोमजबूरहैं।गाड़ीमालिकोंकाकहनाहैकिगाड़ीखरीदनेकेबादअबनंबरपानेकेलिएजिद्दोजहदकररहेहैं।नवरात्रबीतचुकाहै।पखवाराभरबीतनेकेबादभीअभीपंजीयननंबरनहींमिलसकाहै।मजबूरनलोगगाड़ीबिनानंबरचलारहेहैं।

त्योहारीसीजनमेंनएअफसरसीखरहेकाम

आवेदकोंकीभारीभीड़जमाहोनेकेबादकीगईबमुश्किलकीगईदोएआरटीओकीतैनातीकाअसरअभीनहींदिखरहाहै।कर्मचारियोंकीकमीसेनकेवलपंजीयनकार्यमेंदिक्कतआरहीहै,बल्किडीएलऔरवाहनसंबंधितकामभीअटकरहेहैं।नएएआरटीओअभीत्योहारीसीजनमेंकामसमझरहेहैं।

चालानकौनभरेगा

वाहनस्वामीकहतेहैंकिबिनानंबरकेगाड़ीचलानेकीमजबूरीहै।आरटीओकार्यालयऔरशोरूमकेचक्करलगरहेहैं।चालानहोनेकीदशामेंकौनइसकीभरपाईकरेगा।विभागीयलापरवाहीगाड़ीमालिकोंपरभारीपड़सकतीहै।

क्याकहताहैआरटीओप्रशासन?

आरटीओ(प्रशासन)रामफेरद्विवेदीकेमुताबिक,जल्दहीव्यवस्थापटरीपरआजाएगी।नएएआरटीओअभीआएहैं।कार्यआवंटितकरदियागयाहै।वह कामसमझरहेहैं।गड़बड़ीनहोनेपाएइसेलेकरसर्तकताबरतीजारहीहै।