क्वारंटाइन सेंटर से घर पहुंच जा रहे मजदूर

जासं,गाजीपुर:भुड़कुड़ाथानाक्षेत्रकेडिहवांगांवमेंक्वारंटाइनकिएगएचारमजदूरअपनीमनमानीसेबाजनहींआरहेहैं।समयमिलतेहीयहअपनेघरचलेजारहेहैं,जबकिगांवकेहीप्राथमिकविद्यालयमेंइन्हेंक्वारंटीनकरयहींपररखनेकीसख्तहिदायतदीगईहै।वहींपुलिसकीगाड़ीआतेहीयहक्वारंटाइनसेंटरपहुंचजातेहैं।घरवालेभीइनकापूरासहयोगकररहेहैं।गांववालेइनकेहरकतोंसेकाफीभयभीतहैं।

डीहवागांवमेंबीतेएकमईकोमुंबईऔरदिल्लीसेपहुंचे4प्रवासीमजदूरोंकोगांवकेहीप्राथमिकविद्यालयमेंक्वारंटाइनकियागयाहै।ग्रामप्रधानकीदेखरेखयहसभीरखेगएहैं।इनमेंदोमजदूरग्रामीणोंद्वारामनाकरनेपरभीनहींमानरहेहैं।समयमिलतेहीयहअपनेघरचलेजातेहैं।घरवालेभीइसकाविरोधकरनेकेबजाएघरमेंउनकेसाथमिलजुलरहेहैं।ग्रामीणोंकोयहडरसतारहाहैकिभगवाननकरे,लेकिनकोईकोरोनासंक्रमितमिलातोक्याहोगा।इससंबंधमेंलोगोंनेट्विटरपरपुलिससेशिकायतकरकार्रवाईकीमांगकीहै।कोतवालविवेकश्रीवास्तवनेबतायाकिजोभीमजदूरयाकोईभीव्यक्तिअन्यप्रांतोंसेआए हैंउन्हेंविद्यालयमेंसख्तहिदायतकेसाथग्रामप्रधानकीदेखरेखमेंरखागयाहै।यह21दिनतकविद्यालयमेंरहेंगे।इसकेउपरांतस्वस्थहोनेपरहीअपनेघरजासकतेहैं।इनकेद्वाराउल्लंघनकरनेकीशिकायतमिलतीहैतोइनकेविरुद्धकानूनीकार्रवाईभीकीजाएगी।