क्वारंटाइन सेंटर में महिलाओं के नहाने के लिए नहीं है बाथरूम

चम्पावत,जेएनएन:ग्रामपंचायतोंकेनजदीकीस्कूलोंमेंबनाएगएक्वारंटाइनसेंटरोंमेंप्रशासनकीलाखकोशिशकेबादभीअव्यवस्थाएंहावीहैं।कहींक्वारंटाइनकिएगएलोगखुलेमेंनहारहेहैंतोकहींपेयजलकीसमस्यासेप्रवासीपरेशानहैं।

लोहाघाटविकासखंडकेप्राथमिकविद्यालयएवंजूनियरहाईस्कूलपऊमेंबनाएगएक्वांटाइनसेंटरमेंपांचमहिलाओंसमेत18लोगोंकोक्वारंटाइनकियागयाहै।यहांबाथरूमनहोनेसेमहिलाएंखुलेमेंस्नानकरनेकोमजबूरहैं।18लोगोंकेलिएसिर्फचारशौचालयहैं।यहांक्वारंटाइनकिएगएअधिकांशलोगदिल्लीसेआएहैं।सेंटरमेंसाफसफाईकेभीपुख्ताइंतजामनहींहैं।क्वारंटाइनकिएगएलोगजूठनएवंभोजनसामग्रीकेपत्त्तलआदिरास्तेमेंफेंकरहेहैं।हालांकियहांड्यूटीमेंतैनातशिक्षक,आंगनबाड़ीएवंआशाकार्यकर्ताकेसाथग्रामपंचायतकेपदाधिकारीलोगोंकोसाफसफाईकेलिएप्रेरितकररहेहैं।बुधवारकोजीआइसीलोहाघाटकेविज्ञानशिक्षकश्यामदत्त्तचौबेकेनेतृत्वमेंक्वांटाइनमेंरहरहेलोगोंनेविद्यालयपरिसरकीसफाईकी।दूसरीओरचम्पावतविकासखंडकेतामलीमंचक्षेत्रमेंपेयजलकीसमस्याहोनेसेयहांबनाएगएक्वारंटाइनसेंटरमेंभीनियमितएवंसुचारूपानीनहीेंमिलपारहाहै।लोगहैंडपंपोएवंप्राकृतिकजलस्रोतोंसेपानीभरनेकोमजबूरहैं।===========जिलेकेकिसीभीविद्यालयमेंबॉथरूमकीव्यवस्थानहींहै।नोडलअधिकारीयासंबंधितविद्यालयकेप्रधानाचार्यकोटाटपट्टीका

अस्थाईबॉथरूमबनानेकेनिर्देशदिएगएहैं।जहांमहिलाएंहैंउनसेंटरोंमेंनोडलअधिकारीकोतत्कालअस्थाईबॉथरूमकीव्यवस्थाकरनीचाहिए।

-आरसीपुरोहित,मुख्यशिक्षाधिकारीचम्पावत