कुरावली मंडी में इंतजामों का कोई भाव नहीं

मैनपुरी,कुरावली:लहसुनऔरआलूकेकारोबारकेलिएमशहूरमंडीकेहालबेहालहैं।रातकेघुप्पअंधेरेमेंनतोरोशनीकाइंतजामहैऔरनहीसूखरहेहलकोंकीप्यासबुझानेकोपानीकीव्यवस्था।चहारदीवारीटूटगईहैं,नछायाहैऔरनहीचलनेलायकसड़क।बदहालीबयांकरतीयेउसमंडीकीकहानीहै,जोहरसालसरकारकोडेढ़करोड़काटैक्सदेतीहै।

कुरावलीकस्बेसेकरीबपांचकिमीदूरजीटीरोडपरकृषिउत्पादनउपमंडीस्थितहै।मंडीमेंपांचसैकड़ाव्यापारीऔरआढ़तीलाइसेंसलेकरकारोबारकररहेहैं।लेकिनयहांदुकानेंकेवल130हीबनीहैं।बाकीकेआढ़तीदुकानोंकेबाहरबरामदेमेंअपनाकारोबारकरतेहैं।आंधीऔरपानीमेंउन्हेंदिक्कतोंकासामनाकरनापड़़ताहै।यहांलगभगदससालपहलेरातकेअंधेरेमेंमंडीरोशनकरनेकोस्ट्रीटलाइटलगाईगईं।लेकिनएकसालसेएकभीलाइटनहींजलतीहैं।पूरीमंडीमेंअंधेरापसरारहताहै।व्यवस्थाकेनामपरपांचबल्बजरूरलगेहैं,लेकिनइतनीबड़ीमंडीमेंयेबल्बअंधेरेकोखत्मनहींकरपारहेहैं।मंडीसेवर्ष2016-17मेंडेढ़करोड़रुपयेसरकारकोटैक्समिलताहै।बावजूदइसकेसरकारसुविधाएंनहींदेपाई।

मंडीमेंपानीकेलिएएकजलाशयबनाहै,लेकिनउसकीसबमर्सिबलपंपकईदिनोंपहलेहीचोरीहोगईहै।आढ़तीनेनिजीहैंडपंपपानीकेलिएलगालिएहैं।बाकीकोगर्मीमेंपानीकेलिएभटकनापड़ताहै।

बदहालसड़कोंपरचलनामुश्किल::मंडीमेंसड़कोंकीहालतइतनीखराबहैकिउसपरचलनामुश्किलहै।जरासीबारिशमेंसड़कतलैयाबनजातीहै।जलनिकासीकेपर्याप्तइंतजामनहोनेकेकारणमुश्किलेंहोतीहैं।यहीकारणहैकिएकदिनकीबारिशमेंसड़कोंपरकईदिनजलभरावरहताहै।

टूटीचहारदीवारी,घुसआतेहैंजानवर::

मंडीकीचहारदीवारीटूटगईहैं।चहारदीवारीनहोनेसेआवाराजानवरबेरोकटोकअंदरघुसआतेहैं।मंडीमेंकिसानोंकीरखीफसलकोभीजानवरनुकसानपहुंचादेतेहैं,लेकिनचहारदीवारीनिर्माणकोकोईपहलनहींकीगई।

सुरक्षाकेनहींइंतजाम::दूर-दूरसेकिसानमंडीमेंअपनीफसललेकरआतेहैं।लेकिनमंडीमेंसुरक्षाकेइंतजामनहींहैं।आएदिनकिसानोंकीफसलभरेबोरेमंडीसेचोरीहोजातेहैं।चोरियोंकोलेकरव्यापारियोंनेहंगामाभीकिया,लेकिनआजतकइंतजामनहींहोसके।

क्याकहतेहैंआढ़ती

मंडीमेंव्यवस्थाकेनामपरकुछभीनहींहै।रातमेंअंधेरापसरजाताहै।लाइटेंखराबहैं।इसीकाफायदाउठाकरमंडीमेंचोरसामानपारकरदेतेहैं।कईबारशिकायतकेबादभीव्यवस्थाएंनहींहोपारहीहैं।

अनिलयादव,आढ़ती।

मंडीमेंआढ़तीकामालसुरक्षितनहींहै।कईबारइसकेलिएहंगामाकियागया,सुरक्षाकाआश्वासनमिला,लेकिनआजतकइंतजामनहींहोपाए।किसानतकखुदकोसुरक्षितनहींमानते।

शिवराज¨सह,आढ़ती।

जबमंडीसेडेढ़करोड़रुपयेकाराजस्वमिलताहै,तोमंडीमेंइंतजामभीनहींचाहिए।पानीतककेइंतजामनहींहैं।गर्मीमेंआढ़तीऔरकिसानप्याससेबेहालहोजातेहैं।

महावीरवर्मा,आढ़ती।

येउसमंडीकाहालहैजोभरपूरटैक्ससरकारकोदेतीहै।लेकिनयहांकभीसुविधाओंकोलेकरध्याननहींदियागया।नतोबिजलीकाइंतजामहैऔरनहीपानीकीव्यवस्था।

सुदामायादव,आढ़ती।

क्याकहतेहैंकिसान

हमफसललेकरसीजनमेंरात-रातभरमंडीमेंरहतेहैं।लेकिनयहांसुरक्षाकोलेकरकोईप्रबंधनहींहै।मंडीमेंरातमेंअंधेरारहताहै,इससेकिसानोंकोडरलगताहै।सरकारकोचाहिएकिमंडीमेंसुरक्षाकेइंतजामकरे।

बलवीर¨सहशाक्य,दिवरई

किसानोंकेलिएकोईसुविधानहींकीगईहै।मंडीमेंइंतजामहैंहीनहीं।रातमेंफसलेंमंडीमेंछोड़नेवालीनहींहैं।कईबारकिसानोंकोफसलभरेबोरेचोरीहोचुकेहैं।

विनोदकुमार,ऊसराहार।

बॉक्स::शासनकोमंडीमेंनिर्माणकार्यऔरबिजलीव्यवस्थाकेलिएप्रस्तावबनाकरभेजागयाहै।जैसेहीइसकेलिएबजटआजाएगा,कामशुरूकरदियाजाएगा।

मनोजकुमार,मंडीनिरीक्षक,कुरावली।