कट आउट. स्वतंत्रता दिवस पर काले झंडे लहराना किसानों के बलिदान का अपमान: भारत भूषण

जागरणसंवाददाता,यमुनानगर:

तीनअध्यादेशोंकेविरोधमेंकिसानयूनियनकीओरसेस्वतंत्रतादिवसकेअवसरपरकालेझंडेलहरानेकेनिर्णयपरभाजपाप्रदेशप्रवक्ताभारतभूषणजूयालनेकहाकिकिसानोंनेदेशकीआजादीकीलड़ाईलड़नेकेलिएअपनेहल,फावड़ेऔरदरांतियांपिघलाकरतलवारेंबनाई।देशकोगुलामीसेमुक्तकराया।आजउन्हींकिसानोंकेनामपरराजनीतिकरकेअपनेआपकोसुर्खियोंमेंलानेवालेलोगकिसानहितैषीनहींहैं।बल्किऐसाकरकेवेकिसानकेउसबलिदानवसंघर्षकोदागलगानेकाकामकररहेहैं।स्वतंत्रतादिवसएकऐसापर्वहैजिसदेशकाहरवर्गसंप्रदाय,धर्मऔरजातिकेलोगबड़ेगर्वसमर्पणकेभावसेमनातेहैं।ऐसेपावनऔरगौरवशालीअवसरपरकालेझंडेलहराकरराष्ट्रध्वजवराष्ट्रभावनाकाअपमानकरनेकातुच्छकार्यकिसानयूनियनकेपदाधिकारीकररहेहैं।लोकतंत्रमेंअपनाविरोधप्रकटकरनेकासभीकोअधिकारहैलेकिनऐसेराष्ट्रीयगौरवकेअवसरपरहमइसप्रकारकेकृत्यकोकिसीसेकल्पनानहींकरसकते।