कर्तव्य पथ पर चलते 'बिछड़' गई मां

जेएनएन,मुजफ्फरनगर।धन्यहैंऐसीमाताएंजोअपनीजानकीपरवाहकिएबिनाबच्चोंकोकर्तव्यपरायणताकेसंस्कारदेतीहैं।कोविड-19हास्पिटलबनाएगएमुजफ्फरनगरमेडिकलकालेजकेमाइक्रोबायोलाजीविभागकेअध्यक्षडा.अतुलकीमांनेभीखुदतकलीफसहनागंवारासमझाऔरडाक्टरबेटेकोकर्तव्यसेविचलितनहींहोनेदिया।नतीजतनवहखुदतोदुनियासेचलीगई,लेकिनबेटेकोदिएइंसानियतकेसंस्कारछोड़गई।

मुजफ्फरनगरमेडिकलकालेजमेंमाइक्रोबायोलाजीविभागकेअध्यक्षएमडीचिकित्सकडा.अतुलकुमारइनदिनोंसंक्रमितमरीजोंकीजांचमेंजुटेहैं।वहकोरोनावायरसकीगतितथाउसकीक्रियाओंपरभीशोधकररहेहैं,प्रत्येकमरीजसेलियागयाजांचकानमूनाउनकीआंखोंसेहोकरगुजरताहै।प्रतिदिनहजारोंजांचकीजिम्मेदारीहै।इसकाअंदाजाकानपुरकेगोविदपुरीमेंरहरहीउनकीमांजयश्रीकोभीथा।कानपुरमेंउनकीहालतबिगड़ीतोफर्जअदायगीमेंजुटेडाक्टरबेटेकोपरेशानकरनाउन्होंनेउचितनहींसमझा।ज्यादाहालतखराबहोनेकीखबरडा.अतुलकुमारकोलगीतोउन्होंनेएंबुलेंसभेजकरमांकोकानपुरसेबुलाकरमंगलवारकोनगरकेडिवाइनअस्पतालमेंभर्तीकरादिया।डा.अतुलकीपत्नीडा.सोनिकाभीडिवाइनअस्पतालमेंकार्यरतहैं।डा.अतुलमांकीतबीयतकेबारेमेंपल-पलकीखबरलेरहेथे,लेकिनकामकीअधिकताकेकारणवहडिवाइनअस्पतालरुकनहींपारहेथे।मांनेभीउन्हेंकामछोड़करअस्पतालआनेसेमनाकियाथा,लेकिनहोनीकोतोकुछऔरहीमंजूरथा।शनिवारकोसुबहबुजुर्गमांजयश्रीनेअंतिमसांसली।डा.अतुलकहतेहैंकियदिमांसमयरहतेउन्हेंअपनीतबीयतकेबारेमेंबतादेतींतोवहकानपुरपहुंचकरउनकाबेहतरउपचारकरादेते।डा.अतुलकेछोटेभाईकोभीसंक्रमितआनेपरडिवाइनमेंहीभर्तीकरायागयाहै।