कर्नाटक ने तमिलनाडु के लिए कावेरी का पानी छोड़ना टालने का फैसला किया, विधानमंडल की बैठक बुलाई

बेंगलुरू,21सितंबर::कर्नाटकसरकारनेतमिलनाडुको23सितंबरतककावेरीनदीका6000क्यूसेकपानीछोड़नाटालनेकाआजरातफैसलाकिया।उसदिनराज्यविधानमंडलकेविशेषसत्रमेंउच्चतमन्यायालयकेनिर्देशपरफैसलाकियाजाएगा।मुख्यमंत्रीसिद्धारमैयानेमंत्रिमंडलकीआपातबैठककेबादसंवाददाताओंसेकहा,मंत्रिमंडलनेपानीछोड़नाटालनेकाफैसलाकियाहै।मंत्रिमंडलकीआपातबैठकसेपहलेदिनमेंसर्वदलीयबैठकऔरमंत्रिपरिषदकीबैठकहुईथी।सिद्धारमैयानेकहाकिमंत्रिमंडलनेउच्चतमन्यायालयकेकलकेआदेशकेमद्देनजरराज्यविधानमंडलकाविशेषसत्र23सितंबरकोबुलानेकाफैसलाकियाहै।उसमेंआजसे27सितंबरतककर्नाटकसे6000क्यूसेकपानीछोड़नेकाआदेशदियागयाथा।उन्होंनेकहाकिसर्वदलीयबैठकमेंसरकारकोउच्चतमन्यायालयकेनिर्देशपरचर्चाकेलिएराज्यविधानमंडलकाविशेषसत्रबुलानेकीसलाहदीगईथीऔरउसीअनुसारमंत्रिमंडलनेफैसलाकिया।कावेरीनिगरानीसमितिने19सितंबरकोकर्नाटकसेकहाथाकिवह21सितंबरसे30सितंबरतकप्रतिदिन3000क्यूसेकपानीछोड़ेलेकिनशीर्षअदालतने21सितंबरसे27सितंबरतककर्नाटककोतमिलनाडुकेलिए6000क्यूसेकपानीछोड़नेकाआदेशदियाथा।शीर्षअदालतनेयहआदेशतबदियाथाजबतमिलनाडुनेअपनीसांबाधानकीफसलकोबचानेकेवास्तेपानीकेलिएदबावबनायाथा।पांचसितंबरकोशीर्षअदालतनेतमिलनाडुमेंकिसानोंकीदुर्दशाकानिराकरणकरनेकेलिएअगले10दिनोंकेलिए15000क्यूसेकपानीछोड़नेकाआदेशदियाथा।