कोरोना संकटकाल में बढ़ा आनलाइन बिजली बिल अदायगी का चलन

जागरणसंवाददाता,गाजियाबाद:कोरोनासेबचावकोलेकरलोगजागरूकभीहुएहैं।विद्युतबिलजमाकरानेकेलिएलाइनमेंलगनेवालोंकीसंख्यामेंकमीआईहै।जिलेके44फीसदसेअधिकविद्युतउपभोक्ताओंनेआनलाइनबिलजमाकरानेमेंरूचिदिखाईहै,जोकोरोनासंकटकालसेपूर्वकीअपेक्षाकरीब15फीसदसेअधिकहै।

कोरोनासंक्रमणकाखतराअभीकमनहींहुआहै।लगातारबढ़ेमामलेसामनेआनेकेसाथहीलोगसतर्कभीहैं।बाजारमेंभलेहीभीड़हो,लेकिनजागरूकलोगकदम-कदमपरसावधानीबरतरहेहैं।जीहां,बातकरतेहैंविद्युतनिगमकी।जनपदमेंघरेलू,वाणिज्यिकवऔद्योगिकइकाइयोंकाकरीब300करोड़रुपयेबिजलीबिलजमाहोताहै।कोरोनासंकटकालसेपूर्वकरीब25से28फीसदविद्युतउपभोक्ताहीआनलाइनबिजलीबिलअदाकरतेथे,जोअबबढ़कर44प्रतिशतसेअधिकउपभोक्ताबिलजमाकररहेहैं।लोगलाइनमेंलगनेकेसाथहीकैशलेन-देनसेभीबचरहेहैं।यहीवजहहैकिआनलाइनबिलअदायगीकाचलनलगातारबढ़ाहै।

कोरोनाकेमामलेलगातारबढ़रहेहैं।शासन-प्रशासनअपनेस्तरपरलोगोंकोजागरूककरनेकाप्रयासकररहाहै,लेकिनअभीलोगउतनेज्यादागंभीरनहींहैं।जरूरीहैकिकैशलेन-देनसेजितनाहोसकेबचाजाए।बिजलीबिलजमाकरनेकेलिएलंबीलाइनवकैशलेन-देनसेबेहतरआनलाइनबिलसावधानीसेजमाकरनाज्यादासुरक्षितवआसानहै।

-अब्बासहैदर,संजयनगरबिजलीबिलजमाकरानेकेलिएपहलेलाइनमेंलगकरकैशजमाकरानापड़ताथा।इससेसमयकीबर्बादीकेसाथआने-जानेमेंभीखर्चहोताथा।कईबारसमयनमिलनेकीवजहसेबिलजमाकरनेकीअंतिमतिथिभीनिकलजातीथी।कोरोनाकेचलतेमार्चमेंजमानहोनेपरअप्रैलमाहकाबिलमोबाइलसेजमाकराया।कोरोनासेबचावकेसाथसमयकीभीबचतहै।

-अंशुलत्यागी,राजनगरएक्सटेंशन

कोरोनासंकटकेचलतेलाकडाउनकेशुरूआतमेंबिजलीबिलजमाकरनेवालोंकीतादादबेहदघटी।वहीं,बिजली24घंटेदेनेकेआदेशथे।कोरोनासंकटकेदौरानविद्युतआपूर्तिहुई।इसबीचकैशकाउंटरखुलनेकेबावजूदउपभोक्ताकमतादादमेंबिलजमाकरनेपहुंचे।विभागकीओरसेआनलाइनकोबढ़ावादियागया,जिसकेचलतेअबआनलाइनबिलिग25से28फीसदसेबढ़कर44प्रतिशतसेअधिकहोगईहै।

-आरकेराणा,मुख्यअभियंता