कोरोना काल में ठंडा पड़ा लखनऊ का बाजार, हर ट्रेड की बिक्री में आया बड़ा अंतर

लखनऊ,[नीरजमिश्र]।कोरोनासंक्रमणकीबढ़तीगतिनेसहालगकीतपिशकोबाजारसेखत्मकरदियाहै।सहालगकेमौसममेंबाजारोंमेंठसाठसदिखनेवालीभीड़अबशोरूमकेसन्नाटोंमेंतब्दीलहोतीदिखरहीहै।कपड़ाबाजारमेंजहां30फीसदसेअधिककीगिरावटआईहै।वहींसराफा,होटल,किरानासमेतकईअन्यट्रेडकीबिक्रीमेंभीबड़ाअंतरआयाहै।गर्मवस्त्र,शूट,शेरवानी,लहंगा,होजरीसमेतसभीबाजारडाउनहुएहैं।

कारोबारियोंकीचिंताइसबातकोलेकरहैकिमंगायागयामालइससहालगमेंपहलेकीतरहउठेगायाफिरगोदामोंऔरशोरूममेंहीडंपरहेगा।15जनवरीसेशुरूहोनेवालीइससहालगकोकोरोनानेचौपटकरदियाहै।चिंताइसबादकीभीहैकिवहमालमंगाएंयानहीं।सीमितसंख्यामेंहोनेवालीशादियोंमेंमालबिकेगायानहीं,इसेलेकरबाजारमेंसंशयकीस्थितहै।कारोबारमेंलगातारगिरावटबाजारकीरफ्तारकोकमरहीहै।

ऊलेनवस्त्रोंऔरकंबलकीबिक्रीलगातारप्रभावितहोतीजारहीहै।यहांतकसर्दियोंमेंबिकनेवालेकंबलतककाकारोबारइसबारआधेसेभीकमरहाहै।सहालगहोनेकेबावजूदसाड़ी,लहंगाआदिकाकामलगातारघटरहाहै।-प्रभूजालान,कपड़ाकारोबारी

सराफाबाजारनौदिनचलअढा़ईकोसवालीहालतपरफिरसेआगयाहै।त्योहारऔरसहालगनेबाजारकोरफ्तारदीथी।कोरोनानेउसपरअबफिरसेब्रेेकलगादियाहै।इसकीवजहसेसिर्फजरूरतमंदहीखरीदारीकररहाहै।शादियोंकोलेकरपहलेकीतरहआमजनकीतैयारियांअबनहींदिखरहीहैं।-अनुरागरस्तोगी,सराफाकारोबारी

होटलऔरलानकारोबारपरकाेरोनाकाग्रहणलगगयाहै।आगामीसहालगमेंशहरमेंहोनेवालेबारातघर,लानऔरहोटलोंमेंहोनेवालाकरीब300करोड़काव्यापारघटकरआधारहगयाहै।संक्रमणकीगतिदेखकहाजासकताहैकिआनेवालेदिनोंमेंहोटलउद्योगकेऔरघटनेकेआसारहैं।-श्यामकृश्नानी,ज्वाइंटसेक्रेटरीयूपीहोटलएंडरेस्टोरेंटएसोसिएशन

कोरोनाकालमेंकाढ़ाकेआइटमकालीमिर्च,लौंग,दालचीनी,हल्दीआदिचीजोंकीबिक्रीजरूरथोड़ाबढ़ीहैलेकिनअन्यआइटमशांतहैं।बाजारमेंअन्यमसालेकेआइटमजरूरतकेमुताबिकहीलोगलेरहेहैं।पहलेकीतरहरोजअन्यजिलोंकोहोनेवालीचारसेपांचट्रककिरानाआइटमकीआपूर्तिघटकरआधीरहगईहै।-विनोदअग्रवाल,थोककारोबारीकिरानासुभाषमार्ग

कोरोनाकालकेमहीनेआगामीसहालगपरभारीपड़नेवालेहैं।कपड़ाकारोबारकीबिक्रीमेंसहालगपरजहांशोरूमभरेरहतेथेधीरे-धीरेउनमेंसन्नाटापसरताजारहाहै।लहंगा,साड़ी,शूटिंग-शर्टिंग्सआदि।ऐसेमेंचिंताहैकिगोदामोंमेंजमामालकैसेबिकेगा।नयाआर्डरबुककराएंयाफिरइंतजारकरें।कारोबारीइसीउधेड़बुनमेंहैं।-अशोकमोतियानी,अध्यक्ष,उप्रकपड़ाउद्योगव्यापारप्रतिनिधिमंडल

कोराेनाकालमेंथमाशहरकाबाजार,आगामीसहालगमेंगिरताकारोबारीआंकड़ारुपयोंमें

ग्रामीणांचलोंकेबीचथमीरोजगारकीगतिः ग्रामीणक्षेत्रोंमेंबिकनेवालासूतीकपड़ा,सस्तीसाड़ियां,चादर,पटरा,लट्ठा,मारकीन,कंबलआदिचीजोंकाकामकोरोनाकालमेंकमहोगयाहै।राजधानीलखनऊसेहीआसपासकेजिलामुख्यालयोंऔरतहसीलोंकोमालकीआपूर्तिकीजातीहै।लेकिनइसबारयहभीघटकरआधाहोगयाहै।

यहभीपढ़ेंःलखनऊकेडीएमनेकहा-स्कूलोंमेंभीबनेवैक्सीनेशनसेंटर,रविवारकोभीकियाजाएबच्चोंकाटीकाकरण