कोई उत्तराखंड तो कोई वैष्णो देवी यात्रा पर गया; कइयों ने खेती शुरू की, पुलिस वैरिफिकेशन से खुला राज

सीएमयोगी2.0कार्यकालमें'ठोकोनीति'केपॉजिटिवइफेक्टसामनेआनेलगेहैं।मामलागोरखपुरसेजुड़ाहै।पुलिसवैरिफिकेशनकेलिएबदमाशोंकेघरोंतकपहुंचीतोबदमाशनहींमिले।बदमाशकहांहै?येसवालजबपुलिसनेपरिजनोंसेकियातोचौंकानेवालाजवाबमिला।कोईउत्तराखंडकीधार्मिकयात्रापरगयाहै,तोकोईवैष्णोदेवीदरबारमेंमत्थाटेकनेगयाहै।

बहुतसेबदमाशोंकेरोजगारसेजुड़नेकेइनपुटभीमिलरहेहैं।कुछनेछोटी-मोटीनौकरीकरली।पुलिसरिकॉर्डमेंबदमाशअबसुधरचुकेहैं।हालांकि,पुलिसपरिवारोंसेबदमाशोंकेघरलौटकरआनेपरवैरिफिकेशनकीताकीदकररहीहै।पुलिसकीमानेंतोयेबुलडोजरकाडरभीहै,क्योंकिबदमाशोंकेघरकुर्ककरनेसेज्यादाअबतोड़ेजारहेहैं।

अबएक-एककरकेआपकोकुछबदमाशोंकेकिस्सेपढ़वातेहैं...

केस1:चोरीकरताथा,अबजम्मूमेंवैष्णोदेवीकेदर्शनकररहा

शाहपुरइलाकेमेंचोरीकरनेकेआरोपीसंजयविश्वकर्माकावैरिफिकेशनहोनाथा।घरपरपुलिसकेपहुंचनेपरपरिवारवालोंनेबतायाकिवोकटरामेंवैष्णोदेवीकेदर्शनकरनेगएहैं।अबसुधरचुकेहैं।इससमयगैसमरम्मतकीदुकानचलारहाहै।

केस2:लूटकाआरोपीउत्तराखंडमेंघूमरहा

बेलघाटइलाकेकेपिंटूसिंहपरलूटकाकेसदर्जहै।पुलिसउसकेघरपहुंची,तोघरवालोंनेउसकेउत्तराखंडमेंहोनेकीजानकारीदी।येभीबतायाकिवोहरिद्वारमेंछोटीनौकरीकीहै।पुलिसनेउसकोथानेमेंहाजिरहोनेकेलिएसमयदियाहै।

केस3:लूटकरनेवालाकररहाखेती,इसवक्तसिरडीगयाहै

सिकरीगंजकेखदेरू15वर्षकीउम्रमेंपहलीबारसाइकिललूटमेंजेलगयाथा।उसकेबादकईअपराधोंमेंखदेरूकानामसामनेआया।वहहिस्ट्रीशीटरकीलिस्टमेंआगए।पुलिसजबसत्यापनकेलिएगईतोपताचलाकिवहअबखेतीकिसानीकरकेसुकूनकेसाथघरपररहतेहैं।इससमयवेशिरडीगएहुएहैं।

केस4:हिस्ट्रीशीटरजयरामभीपशुपालनसेजुड़ा

सिकरीगंजकेबारीगांवमेंरहनेवालाजयरामसिंहभीखेती-किसानीकरकेपरिवारकीजीविकाचलातेहैं।वहपशुपालनसेभीजुड़ाहुआहै।1972सेहीमारपीट,लूटआदिमामलोंमेंइनकानामसामनेआनेलगाथा।उसनेपुलिसटीमपरहमलाभीकियाथा।अबसत्यापनमेंपताचलाकिवोपशुपालनकररहाहैऔरइससमयकाशीविश्वनाथगयाहुआहै।

केस5:आरोप्लांटमेंकामकररहाफूलचंद

चिलुआतालकाहिस्ट्रीशीटरफूलचंदभीसामान्यजीवनजीरहाहै।वोआरओप्लांटपरकामकररहाहै।20सालपहलेउसकेगांवकेपासमालगाड़ीमेंचोरीवलूटकेकईकेसदर्जहुएथे।परिजनोंनेबतायाकिइससमयवोमध्यप्रदेशमेंमहाकालकेदर्शनकरनेगएहैं।

जिलेमेंहैं546निष्क्रियहिस्ट्रीशीटर

जिलेमेंनिष्क्रियहिस्ट्रीशीटरोंकीसंख्या546है।इसमेंसे81निष्क्रियहिस्ट्रीशीटरऐसेहैं,जिनकेविरुद्धपिछलेतीनवर्षोंमेंकोईमुकदमापंजीकृतनहींहुआहै।इसमेंसेकुछअपनेदूसरेकामधंधेमेंलगगएहैंतोकुछअपनीबढ़तीअवस्थावबीमारीकेचलतेकोईकामधंधातोनहींशुरूकिया,लेकिनपिछलेतीनवर्षोंमेंकिसीअपराधमेंउनकानामसामनेनहींआयाहै।

अबथानोंमेंदर्जबदमाशोंकीसंख्याभीपढ़िए..