किसी भी राज्य में किसी भाषा को नहीं थोपा जायेगा : सरकार

नयीदिल्ली,27जून(भाषा)मानवसंसाधनविकासमंत्रालयनेनयीशिक्षानीतिकेप्रारूपमेंहिंदीकोतीसरीभाषाकेरूपमेंशामिलकरसभीराज्योंकेलोगोंकोहिंदीभाषासीखनेकेलियेबाध्यकरनेकीआशंकाओंकोखारिजकरतेहुयेकहाहैकिकिसीभीराज्यमेंकिसीभीभाषाकोनहींथोपाजायेगा।मानवसंसाधनविकासमंत्रीरमेशपोखरियालनिशंकनेबृहस्पतिवारकोराज्यसभामेंप्रश्नकालकेदौरानबतायाकिसरकारसभीभारतीयभाषाओंकेसमानविकासऔरसंवर्धनकेलियेप्रतिबद्धहै।उन्होंनेनयीशिक्षानीतिकेप्रारूपमेंहिंदीकोतीसरीभाषाकेरूपमेंशामिलकरसभीराज्योंकेलोगोंकोहिंदीभाषासीखनेकेलियेबाध्यकरनेपरसरकारद्वाराविचारकरनेकेसवालकेजवाबमेंकहा,‘‘किसीभीराज्यमेंकिसीभीभाषाकोनहींथोपाजायेगा।’’उन्होंनेकहा,‘‘डा.केकस्तूरीरंगनकीअध्यक्षतामेंराष्ट्रीयशिक्षानीतिकामसौदातैयारकरनेहेतुगठितसमितिनेमंत्रालयकोगत31मईकोमसौदासौंपदियाहै।इसपरसभीपक्षोंसेसुझावमांगनेकेलियेसार्वजनिककरदियागयाहै।इसपर31जुलाईतकसुझावमिलनेकेबादइनपरविचारविमर्शकरइसनीतिकोलागूकियाजायेगा।