किसान विजय कुमार के लिए मुनाफे का सौदा बनी मशरूम की खेती

जागरणसंवाददाता,रोहतक:किसानोंकीआमदनीबढ़ानेकेलिएसरकारकीओरसेअनेकयोजनाएंचलाईजारहीहै।अनेककिसानउनकालाभउठाकरमुनाफेमेंवृद्धिभीकररहेहैं।ऐसेहीएककिसानरोहतककेकाठमंडीनिवासीविजयकुमारहैं।जोमशरूमकीखेतीकरनेलगेहैं।उनकेलिएमशरूमकीखेतीमुनाफेकासौदाबनीहुईहै।आधाएकड़मेंलगाईमशरूमसेवेप्रत्येकमहीनेउत्पादनलेरहेहैं।इसकीबढ़तीमांगकेचलतेउन्हेंइसकीबिक्रीकीभीकोईचितानहींरहतीहै।रोहतकहीनहींदिल्लीमेंभीउनकीमशरूमकीबिक्रीआसानीसेहोजातीहै।

बीकामपासविजयकुमारनेबतायाकिलाकडाउनमेंउन्हेंमशरूमकीखेतीकरनेकाविचारआया।जिसकेबादउन्होंनेकृषिविश्वविद्यालयहिसारसेट्रेनिगली।उन्होंनेसोनीपतकेमुरथलसेभीट्रेनिगलीऔरजिलेकेगांवबनियानीमेंपांचमहीनेपहलेहीआधाएकड़मेंमशरूमकीखेतीशुरूकी।हालांकिइसमेंसावधानीकीबहुतजरूरतहोतीहै।लेकिनकिसानअगरसावधानीबरतेंऔरतोएकएकड़मेंसालाना10लाखतककीआमदनीमशरूमसेहोसकतीहै।विजयकेमुताबिकपहलेप्राइवेटकंपनीमेंअकाउंटेंटकीनौकरीकरतेथे।लेकिनउन्होंनेनौकरीछोड़दीऔरअपनाखुदकाकार्यशुरूकिया।उन्होंनेआटामिललगाईजिसकेबादअबउन्होंनेमशरूमउत्पादनमेंभीरुचिदिखातेहुएसराहनीयकार्यकियाहै।विजयफिलहालहिमाचलप्रदेशसेभीट्रेनिगलेरहेहैं।मशरूमउत्पादनमेंउनकेइसप्रयासकेलिएबागवानीविभागकेअधिकारीभीउनकीसराहनाकरतेहैं।विजयकाकहनाहैकिअन्यकिसानोंकोभीविभागीयअधिकारियोंसेसंपर्ककरयोजनाओंकालाभउठानाचाहिए।मशरूमकीखेतीकिसानोंकेलिएबहुतलाभकारीसाबितहोसकतीहै।किसानोंकामुनाफाबढ़ानेकेलिएविभागकीओरसेयोजनाएंभीचलाईजारहीहै।जिनकालाभउठाकरकिसानअपनेमुनाफेमेंवृद्धिकरसकतेहैं।विभागकीओरसेकिसानोंकोजागरूकभीकियाजारहाहै।

डा.कमलसैनी,जिलाबागवानीअधिकारी,रोहतक।