कई गांवों में पेयजल समस्या, सड़कों का हाल बेहाल

जागरणटीम,अम्ब:विकासखंडअम्बकेतहतआनेवालीकईपंचायतोंमेंपेयजलसमस्याएकबड़ामुद्दाहै,कुछपंचायतोंमेंस्वास्थ्य,शिक्षा,सड़कऔरपरिवहनसुविधाओंमेंकमीहै।दैनिकजागरणकीओरसेआयोजितआईयेप्रधानजीकार्यक्रममें25पंचायतप्रतिनिधियोंनेअपने-अपनेक्षेत्रकीसमस्याएंरखींऔरप्रशासनवसरकारसेउनकेसमाधानकीमांगकी।कार्यक्रममेंपंचायतप्रधानोंकेअलावाजिलापरिषदसदस्य,बीडीसीसदस्य,पंचायतउपप्रधानभीशामिलहुए।प्रत्येकपंचायतप्रतिनिधिनेअपनेगांवकीसमस्याओंकोबैठकमेंरखा।

खरोह,भगड़ाहऔरलोहाराअपरमेंपरिवहनसुविधाकीकमीकामुद्दाउठातोनैहरीनोरंगा,धर्मशालमहंता,मैड़ीखासऔरलोहारालोअरमेंपेयजलकीकमीकेबारेमेंप्रतिनिधियोंनेबताया।नंदपुरऔरकुटोहड़कलांकेपंचायतप्रधानोंनेबतायाकिउन्हेंमनरेगासेसंबंधितभुगतानदेरीसेमिलताहै।खरोहमेंसड़कोंकीखस्ताहालतकोलेकरपंचायतप्रधाननेग्रामीणोंकादर्दबयांकिया।भगड़ाहमेंसिचाईसुविधाकेलिएकर्मचारियोंकीकमीकेबारेमेंबातकीगई।इसकेअलावाकुछपंचायतोंमेंबेसहारापशुओंवजंगलीजानवरोंकाआतंक,कृषिविक्रयबंदहोने,जंगलकीआगऔरसंपर्कमार्गोकेनिर्माणमेंआरहीअड़चनोंकोलेकरभीचर्चाहुई।वहींपंचायतप्रतिनिधियोंनेअपनीहीजमीनपरमकानबनानेकीराहमेंटाउनएंडकंट्रीप्लानिगकेजटिलनियमोंकाहवालादेतेहुएबतायाकिइससेक्षेत्रके27गांवप्रभावितहोरहेहैं।

पंचायतप्रतिनिधियोंनेयहकहा

पंचायतमेंपेयजलसमस्याकाफीसमयसेरहीहै।गर्मियोंकेदिनोंमेंपंचायतकेनैहरीखालसावडहकीगांवमेंपेयजलकीसबसेअधिकसमस्यापैदाहोजातीहै।विभागीयअधिकारियोंकोसमस्याकेबारेमेंबतायालेकिनकोईहलनहींनिकला।पंचायतमेंबेसहारापशुओंऔरबंदरोंकीसमस्याभीहै।स्वास्थ्य,शिक्षाऔरसड़कोंकीबातकीजाएतोइनकीस्थितिहमारीपंचायतमेंठीकहै।

अरुणलता,प्रधाननैहरीनौरंगा।

विभागीयसुस्तीकेकारणपंचायतघरकेभवनकोबनवानेकेलिएपंचायतकेनामजमीनट्रांसफरकरनेमेंपांचसालकासमयलगगया।विभागकेगैरजिम्मेदारानारवैयेकेचलतेआजतकभवननहींबनसकाहै।जबकिफंडमंजूरहोचुकाहै।वहींमनरेगाकेकामोंकोकरवानेमेंभीसमस्याएंआरहीहैं।मजदूरोंकोसमयपरभुगताननहींहोपारहाहै।किसीकामकेलिएसीमेंटकीडिमांडकीजाएतोकई-कईमहीनेसीमेंटनहींमिलपाताहै।

-रंजनादेवी,प्रधाननंदपुर।

मनरेगाकामोंऔरमजदूरोंकीपेमेंटकोलेकरहमारेयहांभीयहीसमस्याहै।पंचायतकेअधिकतरगांवटीसीपीमेंआनेकेकारणलोगोंकोउनकेभवननिर्माणकरवानेकेलिएकाफीपरेशानियोंकासामनाकरनापड़रहाहै।विभागकेकार्यालयमेंचक्करलगानेकेबादभीकईलोगोंकीफाइलेंलटकीहुईहैं।लोगोंकीपरेशानियोंकोदेखतेहुएसरकारकोटीसीपीकेनियमोंकोथोड़ालचीलाकरनाचाहिए।

-सुषमारानी,प्रधानकटौहड़कलां------------------------

पंचायतकेपहाड़ीबेल्टकेगांवभीटीसीपीमेंआतेहैं।विभागकोटीसीपीगांवकेतहतनहीं,बल्किक्षेत्रकेहिसाबसेलागूकरनाचाहिए।पंचायतकेअधिकतरगांवोंकेलोगबंदरोंऔरबेसहारापशुओंकेआतंककेकारणखेतीकरनाछोड़चुकेहैं।बंदरोंऔरबेसहारापशुओंकेआतंकसेलोगोंकोनिजातदिलानेकेलिएसरकारऔरसंबंधितविभागकोकारगरनीतिबनानीचाहिए।

-सुभाषचंद,प्रधानकुठेड़ाखैरला

टाउनएंडकंट्रीप्लानिगकेतहतक्षेत्रकोहाईफ्लडजोनमेंलियागयाहै।प्रशासनसेसवालहैकिस्वांनदीतटीकरणपरजबकरोड़ोंरुपयेकीराशिखर्चकीगईहैतोइसक्षेत्रकोअसुरक्षितक्योंघोषितकियाजारहाहै।वहींजोइसजोनमेंउद्योगलगेहैं,वेकैसेस्थापितहोगए।इसवजहसेयहांनिर्माणकार्यप्रभावितहुएहैंऔरआमजनताबहुतपरेशानहै।

-चमनलाल,उपप्रधानशिवपुर

पंचायतमेंसिचाईव्यवस्थाकीहालतबहुतहीचिंताजनकहै।सातवार्डोवालीधुसाड़ापंचायतएककृषिबहुलपंचायतहै।इसकेबावजूदभीपंचायतकेसातोंवार्डोमेंसिचाईकेलिएसिर्फएकस्कीमहै,जिससेअधिकतरकिसानोंकोलाभनहींमिलपारहाहै।इसपरसरकारकोध्यानदेनाचहिए।

-राजकुमार,प्रधानधुसाड़ा।

रेलसुविधाहैलेकिनक्षेत्रकेलोगोंकोयहसुविधामहंगीपड़रहीहै।बातकीजाएतोठठलपंचायतसेचुरुड़ूवअम्ब-अंदौरारेलवेस्टेशनकासफरआठ-आठकिलोमीटरहै।पंचायतकेकिसीव्यक्तिकोअगररेलसेसफरकरनाहोतोउसेपहले200रुपयेभाड़ेकीटैक्सीकरनीपड़तीहै।लोगोंकीसमस्याकोदेखतेहुएठठलमेंएकहॉल्टस्टेशनबनायाजाए।वहींहमारेयहांबससमस्या,सिचाईसमस्याचिताजनकहैं।पंचायतमेंसिचाईस्कीमेंतोहैंपरउन्हेंऑपरेटकरनेवालाकोईनहींहै।

-रोहितबाली,उपप्रधानठठल।

स्वांनदीकापानीबहुतहीदूषितहोगयाहै।जिसकामुख्यकारणनहीकेकिनारेलगाएगएउद्योगहैं।इनसेनिकलनेवालाजहरीलापानीनदीकोदूषितकररहाहै।इससेयहांकेकिसानोंकीफसलों,पशुचाराऔरइसपानीकोपीनेसेखुदपशुओंकेस्वास्थ्यपरभीविपरीतअसरपड़ाहै।अंदौरासहितउसकेसाथलगतीअन्यकईपंचायतोंकेकिसानोंकीखेतीसीधेस्वांनदीसेजुड़ीहुईहै।इसलिएविभागकोनियमोंकीअनदेखीकरनेवालेउद्योगोंपरकार्रवाईकरनीचाहिए।

-सुनीलकुमार,उपप्रधानलोअरअंदौरा।

बेशकग्रामीणक्षेत्रोंमेंटीसीपीकीसुनियोजितनिर्माणकीयोजनाथालेकिनआमआदमीकोइसबारेमेंजानकारीनहींहै।अच्छाहोताकिइसेथोपनेसेपहलेग्रामीणोंकोजागरूककियाहोता।कईग्रामीणोंकेमकानोंकानिर्माणकार्यशुरूकियालेकिनबादमेंपताचलाकिजिसजमीनपरभवनकाकार्यशुरूकियाहै,वोविभागकीनजरमेंनियमोंकेविपरितहैऔरमकानमेंबिजलीकामीटरवपानीकाकनेक्शननहींलगसकता।

-अशोककुमार,प्रधान,कटोहड़खुर्द।

टीसीपीकेतहतअम्बऔरगगरेटक्षेत्रके27गांवलिएगएहैं।यहएक्टस्थानीयवासियोंकेलिएकिसीमुसीबतसेकमनहींहै।इसएक्टकेनियमइतनेजटिलबनाएगएहैंकिआमआदमीअपनीजमीनपरमकानतकनहींबनापारहाहै।उसेनक्शापासकरवानेकेलिएविभागीयअधिकारियोंकेसमक्षकई-कईचक्करकाटनेपड़तेहैं।सपौरीमेंस्वास्थ्यसेवाएंनकेबराबरहैं।ग्रामीणोंकोइलाजकेलिएलंबासफरतयकरनापड़ताहै।

-दर्शनठाकुर,पंचायतप्रधान,अंबटिल्ला