खतरनाक मोड़, अधूरे इंतजाम, सड़कें लाल

जागरणसंवाददाता,कुरुक्षेत्र:सरकारहरवर्षकरोड़ोंरुपयेयातायातसुरक्षापरखर्चकरतीहै,बावजूदइसकेजमीनीस्तरपरइतनीखामियांहैंकिआएदिनसड़कदुर्घटनाएंहोरहीहैं।हालतयेहैंकिबहुतसीजगहोंपरतोयातायातकेलिएजरूरीट्रैफिकसिग्नल,ब्लिकरलाइट,रिफ्लेक्टरवयातायातसंकेतकयातोलगेहीनहींहैऔरअगरलगेहैंतोदेखरेखकेअभावमेंयेखराबहोचुकेहैं।

ट्रैफिकसिग्नलवसड़कोंकीबुरीस्थितिकेकारणअसमयहीलोगकालकाग्रासबनतेहैं।शहरकेगुलजारीलालनंदामार्गपरयातायातकादबावसबसेअधिकहै,यहांकईऐसेव्यस्तचौकीहैं,जहांपरसिग्नलसिस्टमकीजरूरतपिछलेकईसालोंसेमहसूसकीजारहीहै।मगरप्रशासननेनतोइसओरध्यानदियाऔरनहीयातायातव्यवस्थाकोदुरुस्तकरनेकेलिएकोईकदमउठाया।पिछलेदोसालसेसड़ककानिर्माणअधरपरलटकाहुआहै।देशमेंसालानाहोनेवालेसड़कहादसोंमेंसड़कोंकीखामियां,आधे-अधूरेनिर्माणकार्य,खराबट्रैफिकसिग्नल,सड़कपरगलतपार्किंग,सड़कोंपरखड़ेखराबवाहन,यातायातनियमोंकाउल्लंघन,नशावरफ्तार,ओवरलोडेडवाहन,ट्रैक्टर-ट्राली,जुगाड़वाहनप्रमुखहैं।प्रदेशकीअगरबातकरेंतोहरसाल12हजारसड़कदुर्घटनाओंमेंलगभगसाढ़ेपांचहजारलोगोंकीमौतेंहोतीहैं।जिलेमेंवर्ष2019में544हादसेहुए,जिसमें244लोगमौतकाशिकारहुए,वहींइसवर्षनवंबरमाहतक384सड़कहादसोंमें183लोगोंकीमौतहुईहै।इनमेंकेवलवाहनचालककीलापरवाहीहीनहींअधूरेइंतजामभीहैं।ज्यादातरभारीवाहनबिनाफिटनेसकेक्षमतासेअधिकभारलेकरचलतेहैं।वाहनोंकेलिएअनिवार्यसुरक्षामानकलागूकरनेकेलिएभीकोईप्रावधाननहींकियागयाहै।वर्ष2020केअंततकसरकारकीयोजनासड़कहादसोंमें50प्रतिशतकमीलानाऔरप्रत्येकसड़कपरट्रैफिकसिग्नललगानेकीयोजनाहै।इसकेतहतकईहाई-वेभीबनेऔरसड़कोंकोचौड़ाभीकियाजारहाहै।मगरयहसबप्रमुखसड़कोंपरहै,जबकिग्रामीणक्षेत्रोंकीसड़केंवलिकमार्गअभीभीखस्ताहालहैं।

डिजाइनिगनहोनाहादसोंकीवजह

सड़केंयातायातकोसुगमकरनेकेलिएहोतीहैं,लेकिनकईबारइनसड़कोंकेनिर्माणमेंइतनीजटिलडिजायनिगऔरदोषपूर्णइंजीनियरिगकाइस्तेमालहोताहैकिवाहनचालकभ्रमितहोकरहादसेकोजन्मदेतेहैं।इसकेअलावासामान्यरूपसेसमझमेंनआनेवालेसंकेतकोंकाभीसड़कदुर्घटनाकीवजहोंमेंखासीभागीदारीहोतीहै।डिजायनमेंसड़ककीज्यामितिअहमतत्वहै।दोषपूर्णडिजायनकेचलतेअक्सरएकहीजगहहादसोंवालेब्लैकस्पॉटतैयारहोजातेहैं।

नियमोंकेपालनसेथमसकतीहैंसड़कदुर्घटनाएं

इंडियनरोडकांग्रेसकेनियमोंकेअनुसारसड़कोंवपुलोंकेनिर्माणमेंसहीमापदंडअपनाएजांतोकाफीहदतकसड़कदुर्घटनाओंपरअंकुशलगायाजासकताहै।पुलोंकेनिर्माणकेसाथबारिशकेपानीकीनिकासीकाविशेषप्रबंधहोनाचाहिए।अगरसहीनिकासीकाप्रबंधनहींहोगातोपुलकोबारशिकापानीखस्ताकरदेगा,वहींसड़कपरपानीजमाहोनेसेदुर्घटनाओंकोखतराऔरभीबढ़जाताहै।निर्माणमेंनियमोंकीउड़ाईजातीहैंधज्जियां

अशोकपुरपब्लिकरोडसेफ्टीएसोसिएशनकेसदस्यएडवोकेटजगरूपसिंहकाकहनाहैकिसड़कबेहतरहोनाहरदेशकीआर्थिकतरक्कीकेलिएजरूरीहै।जिसदेशमेंयातायातकेसाधनजितनेसुगमहोंगेवहदेशउतनीहीतरक्कीकरेगा।इसकेलिएबेहतरइंजीनियरिगकीजरूरतहै।निर्माणकंपनियांइंडियनरोडकांग्रेसकेनियमोंकीपालनानहींकरती,जिसकानतीजाआमजनकोभुगतनापड़ताहै।सड़कनिर्माणमेंहोरहेभ्रष्टाचारमेंइननियमोंकीधज्जियांउड़ादीजातीहै।सिग्नलसिस्टमकाढांचायातायातकोनियंत्रितऔरव्यवस्थितकरनेकेलिएहोताहै,मगरबड़ेशहरोंकोछोड़दियाजाएतोकिसीभीशहरमेंसिग्नलसिस्टमनियमितरूपसेकार्यनहींकरते।