खतरे के बीच धंधेबाज भी हैं सक्रिय

चरही:वैश्विकमहामारीकोरोनाकासंक्रमणधीरे-धीरेपड़ोसीप्रखंडविष्णुगढ़औरअबबड़कागांवतकपहुंचचुकाहै।इसकेबावजूदभीलोगइसकेसंक्रमणसेबेपरवाहनजरआतेहैं।जिनदुकानोंकोपूर्णरूपसेपाबन्दीलगीहैंवैसेधंधेबाजअपनेघरोंसेहीदुकानचलारहेहै।पान,मसाला,गुटखा,सैलूनजैसेदुकानोंकोचलानावर्जितहै।इनसेसंक्रमणबढ़नेकाखतराअधिकहोताहै।ऐसेमेंकुछलोगग्राहकोंकोअपनेघरोंमेंबुलाकरपान,गुटखा,पानमसालाबेचरहेहैं।चरही-घाटोमार्गपरएकएकसंचालककेबारेमेंलोगोंकीशिकायतलगभगपूरेलॉकडाउनकीअवधिसेरहीहैं।शिकायतहैकिपानविक्रेताकादुकानतोबन्दहैलेकिनकारोबारघरसेकररहाहै।पानकेपतेकीआपूर्तिभीउसकेपासहोजारहीहै।पानखानेवालेग्राहकोंकीपहुंचअन्यकईदूसरेगावोंसेहोरहीहै।पंचायतप्रतिनिधियोंतकशिकायतकीजाचुकीहै।इसीतरहसेमेनरोड़मेंएकसैलूनसंचालकशटरबंदकरग्राहकोंकाहजामतबनाताहै।इससेसंक्रमणकाखतराबढ़सकताहै।शामहोतेहीशराबियोंकीभीड़सुनसानजगहोंपरइकट्ठीहोजातीहै।