खोलिए त्रिनेत्र, मिलेगी अपराधियों की कुंडली

सुलतानपुर:जीहां!येभगवानशंकरकातीसरानेत्रतोनहींहैलेकिनउससेकमभीनहींहै।जिलेकेसारेअपराधियोंकीकुंडलियांइसीमेंकैदहैं।वेक्याहैं,कौनहैं,कैसेहैंऔरकिसतरहकीवारदातकरतेहैं।सारीकीसारीजानकारीयहांपरदर्जहै।अबअपराधियोंकासारारिकार्डइंटरनेटपरदर्जकररहीहै।यूपीपुलिसने'त्रिनेत्र'एपसृजितकियाहै।जिनमेंप्रदेशभरकेपांचलाखसेज्यादाहार्डकोरबदमाशोंकेविवरणलोडहोचुकेहैं।सुलतानपुरके260अपराधियोंकाभीविवरणयहांउपलब्धहै।पुलिसकप्तानअनुरागवत्सकहतेहैंकरीबछहसौअपराधियोंकाविवरणअंकितकरनेकालक्ष्यतयकियागयाहै।सभीकाहुलिया,आदतेंववारदातकरनेकेतरीकेसबकुछअंकितकियाजाएगा।जिससेकिजबभीकहींकोईघटनाहोहमेंअपराधियोंतकपहुंचनेमेंदिक्कतनहो।आमजनभीइसएपकोइंस्टालकरसकतेहैं।जिससेवेभीअपराधियोंसेचौकन्नेरहें।थानेवचौकियोंसेहोरहासंकलन

त्रिनेत्रएपकेलिएअपराधियोंकीडिटेलएकत्रकरनेकेलिएथानेदारोंवचौकीप्रभारियोंकोलगायागयाहै।जिसव्यक्तिपरहार्डकोरअपराधोंमेंमुकदमेदर्जहैंउसकानामइसएपमेंशामिलकियाजारहाहै।यहांतककिमोबाइलनंबरभीअंकितकिएजारहेहैं।